Posted on Leave a comment

Features of Indian Constitution | UPSC- IAS | State PSC

Features of Indian Constitution | UPSC- IAS |  State PSC
Salient Features of our Constitution: The Constitution of India reflects the democratic values of our nation.It is a “living document”.
  • Longest Written Constitution
  • A unique blend of rigidity and flexibility
  • Sovereign, Socialist, Secular, Democratic, Republican nature of the State
  • Fundamental Rights
  • Fundamental Duties
  • Directive Principles of State Policy
  • Integrated and Independent Judiciary
  • Single Citizenship
  • Universal Adult Franchise
  • Federal structure of government
  • Emergency Provisions
  • Parliamentary form of government
  • Local Self-government
  • Special provision for Scheduled Areas
संविधान की प्रमुख विशेषताएं : भारत का संविधान हमारे राष्ट्र के लोकतान्त्रिक मूल्यों को दर्शाता है | यह एक “जीवित अभिलेख” हैं |
  • सबसे लम्बा लिखित संविधान
  • नम्यता एवं अनम्यता का समन्वय
  • संप्रभु, समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतान्त्रिक, गणतंत्रवादी प्रकृति का राष्ट्र
  • मौलिक अधिकार
  • मौलिक कर्त्तव्य
  • राज्य के नीति-निर्देशक सिद्धांत
  • एकीकृत व स्वतन्त्र न्यायपालिका
  • एकल नागरिकता
  • सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार
  • सरकार का संघीय व्यवस्था
  • आपातकालीन प्रावधान
  • सरकार का संसदीय रूप
  • त्रि-स्तरीय सरकार
  • अनुसूचित क्षेत्रों के लिए विशेष प्रावधान
Longest Written Constitution:
The Constitution of India is the longest written constitution. It originally contained a Preamble, 395 Articles in 22 Parts, 8 Schedules and 5 Appendices. (Presently, it contains 448 Articles in 25 parts, 12 Schedules and 5 Appendices). Factors contributing to longest Constitution:
  • The founding fathers of the Constitution had accumulated experience from working of all known Constitutions of the world and many provisions were included to avoid the difficulties experienced in the working of those Constitutions.
  • It laid down the structure of both Central and State Government.
  • Geographical Factors like vastness of the country and problems related to language, SCs and STs and minorities have contributed to the bulk of the Constitution.
सबसे लम्बा लिखित संविधान :
भारत का संविधान सबसे लम्बा लिखित संविधान है | इसमें मूल रूप से 1 प्रस्तावना, 22 भागों में 395 अनुच्छेद, 9 अनुसूचियां और 5 परिशिष्ट हैं | ( वर्त्तमान में इसमें 25 भागों में 448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां और 5 परिशिष्ट हैं | ) लिखित संविधान के निर्णायक तत्त्व :
  • संविधान के निर्माताओं ने विश्व के समस्त ज्ञात संविधानों के निर्माण के अनुभव को एकत्र किया था और उन संविधानों के निर्माण के अनुभव में जो समस्याएँ थी उन्हें दूर करने के लिए के सारे प्रावधान जोड़े गए |
  • इसने केंद्र और राज्य सरकार की बनावट का नेतृत्व किया |
  • भोगौलिक कारण जैसे देश का विस्तार और भाषाओँ से सम्बंधित समस्या, अनुo जाति और अनुo जनo और अल्पसंख्यकों ने संविधान के विस्तार में योगदान दिया |
For More Articles You Can Visit On Below Links :

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview) 

RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel



Posted on Leave a comment

State Legislature | Indian Polity | UPSC Exams

State Legislature | Indian Polity | UPSC Exams State Legislature:
  • Art. 168-212 under Part VI of the Constitution deals with the State Legislature.
  • The Constitution provides for a Legislature for every state.
  • There are many similarities between Parliament and State Legislatures.
Constitutional Provisions:
  • Art. 168 provides that the Legislature of every State consists of the Governor or one or two Houses.
  • The Legislature in the State can be unicameral (consisting of one House) or bicameral (consisting of two Houses).
  • States of Jammu & Kashmir, Bihar, Maharashtra, Karnataka, Andhra Pradesh, Uttar Pradesh and Telangana have bicameral Legislature.
  • Unicameral Legislature consists of Legislative Assembly only whereas Bicameral Legislature consists of Legislative Assembly and Legislative Council.
राज्य विधायिका:
  • संविधान के भाग VI के तहत अनु. 168-212 में राज्य विधानमंडल के बारे में बताया गया है।
  • संविधान प्रत्येक राज्य के लिए एक विधानमंडल के लिए प्रदान करता है।
  • संसद और राज्य विधानमंडलों के बीच बहुत समानताएं हैं।
संवैधानिक प्रावधान:
  • अनु. 168 में बताया गया है कि हर राज्य का विधानमंडल राज्यपाल एवं एक या दो सदनों से मिलकर बनता हैं |
  • राज्य में विधान मंडल एकसदनीय (एक सदन से मिलकर) या द्विसदनीय (दो सदनों से मिलकर) हो सकता है।
  • जम्मू और कश्मीर, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना राज्यों में द्विसदनीय विधानमंडल हैं।
  • एकसदनीय विधानमंडल में विधान सभा का ही गठन होता है, जबकि द्विसदनीय  विधानमंडल में विधान सभा और विधान परिषद होते हैं।
Composition of Legislative Assembly: 
Legislative Assembly (Vidhan Sabha): It is the popular House of the State.
  1. Composition of Legislative Assembly:The maximum strength of Legislative Assembly can be 500 and the minimum strength is 60. (Legislative Assembly of Mizoram and Goa should have 40 members each.)
  2. The members of the Legislative Assembly are elected directly by the people on the basis of Universal Adult Franchise from territorial constituencies of the State.
विधानसभा : यह राज्य का लोकप्रिय सदन होता है |
  1. विधान सभा का बनावट :इसकी अधिकतम संख्या 500 और न्यूनतम 60 है | (मिजोरम और गोवा के लिए विधान सभा के लिए 40 सदस्य होंगे |)
  2. विधान सभा के प्रतिनिधियों का निर्वाचन  प्रत्यक्षत: राज्य के निर्वाचन क्षेत्र  से व्यस्क मताधिकार के द्वारा किया जाता है |
For More Articles You Can Visit On Below Links : Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview) 

RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel