Posted on Leave a comment

Political Hierarchy of Government Indian Polity| Civil Services Examination

Political Hierarchy of Government Indian Polity| Civil Services Examination

Political Hierarchy of Government Indian Polity| Civil Services Examination System of Governance- 3 Levels of Government:
  1. Government of the Union
  2. Government of the State
  3. Local Government
Theory of SoP(Separation of Powers): Power of Government is separated into 3 wings, namely:
  1. Legislature
  2. Executive
  3. Judiciary
सरकार के  स्तर :
  1. केंद्र सरकार
  2.  राज्य सरकार
  3. स्थानीय सरकार
सत्ता के हस्तांतरण के सिद्धांत :
सत्ता की शक्तियों को तीन विभागों में बांटा गया है, उनके नाम हैं :
  1. विधायिका
  2. कार्यपालिका
  3.  न्यायपालिका
Legislature:
  1. It comprises of democratically elected representatives of people.
  2. It is the law making body, also known as Parliament.
Executive:
  1. The Executive emerges out of the Legislature ie. Parliament elects the Executive out of its members.
  2. It executes the law and conducts public and national affairs.
Judiciary:
  1. The Judiciary is independent of Legislature and Executive.
  2. Its function is to keep a check over the other organs of state (Legislature and Executive) and to maintain supremacy of the constitution.  
विधायिका :
  1. इसमें लोकतान्त्रिक तरीके से जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधियों को शामिल किया जाता है|
  2. यह कानून बनाने वाली संस्था है, जो संसद के नाम से भी जानी जाती है|  
कार्यपालक :
  1. कार्यपालक का चुनाव विधायिका के द्वारा किया जाता है | संसद अपने सदस्यों में से कार्यपालक का चुनाव करती  है |
  2. यह कानून का पालन करवाता है तथा राष्ट्रहित एवं लोगों से जुड़े कार्यकलापों का संचालन करता है
न्यायपालिका :
  1. न्यायपालिका , विधायिका एवं कार्यपालिका से मुक्त होती है |
  2. इसका कार्य राज्य  के अन्य दोनों अंगों (विधायिका एवं कार्यपालिका ) की जांच करना होता है | न्यायपालिका यह  सुनिश्चित करती है की संविधान की प्रभुता बनी रहे |
For More Articles You Can Visit On Below Links :

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.


HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)


IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)   


RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)   


RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)


Click Here to subscribe Our YouTube Channel

Posted on Leave a comment

Federal System of India | UPSC IAS Prelims Exam | Indian Polity MCQs

Federal System of India | UPSC IAS Prelims Exam | Indian Polity MCQs

Federal System of India | UPSC IAS Prelims Exam | Indian Polity MCQs

Q1. Consider the following statements:/ निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)The government is classified into Unitary and Federal on the basis of the nature of relations between the national and the regional government./ राष्ट्रीय और क्षेत्रीय सरकार के बीच संबंधों की प्रकृति के आधार पर सरकार को एकात्मक और संघीय में वर्गीकृत किया जाता है।

(2)The government can be classified into Parliamentary and Presidential on the basis of nature of the relations between the legislature and the Executive./ सरकार को विधायिका और कार्यकारी के बीच के संबंधों की प्रकृति के आधार पर संसदीय और राष्ट्रपति के रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है।

(3)In Unitary form of government, no regional government should exist./ सरकार की एकात्मक रूप में, कोई क्षेत्रीय सरकार मौजूद नहीं होना चाहिए।

Which of the statement (s) given above is/are not untrue?/  ऊपर दिए गए कथनों  में से कौन सा असत्य नहीं है?

(a)1 and 2/ 1 और  2

(b)2 and 3/ 2 और  3

(c)1 and 3/  1 और  3

(d)1, 2 and 3/ 1, 2 और  3

[showhide type=”links1″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.a

The government is classified into Unitary and Federal on the basis of the nature of relations between the national and the regional government.

[/showhide]

Q2. Which of the following are the Unitary features of a government?/ इनमें से कौन एक सरकार की एकात्मक विशेषताएं हैं?

(1)Single government/ एकल सरकार

(2)Constitution as the Supreme law of the land/ देश के सर्वोच्च कानून के रूप में संविधान

(3)Bicameral or Unicameral Legislature/ द्विसदनीय या एक सदनीय विधानमंडल

Select the correct option (s):/ सही विकल्प चुनें:

(a)1 and 2/ 1 और 2

(b)2 and 3/ 2 और 3

(c)1 and 3/ 1 और 3

(d)1, 2 and 3/ 1, 2 और 3

[showhide type=”links2″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.c

[/showhide]

Q3. Consider the following statements:/ निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)A Federation can be formed by way of integration of states./ एक संघ राज्यों के एकीकरण के माध्यम से बन सकता है।

(2)America was formed as a result of integration of states./ राज्यों के एकीकरण के परिणामस्वरूप अमेरिका का गठन किया गया था।

(3)Federation of Canada was formed as a result of disintegration of states./ राज्यों के विघटन के परिणामस्वरूप कनाडा का संघ गठन किया गया था।

Which of the statement (s) given above is/are true?/ उपरोक्त कथनों में से कौन सा सत्य है?

(a)1 and 2/ 1 और 2

(b)2 and 3/2 और 3

(c)1 and 3/1 और 3

(d)1, 2 and 3/1, 2 और 3

[showhide type=”links3″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.d

A federation is a new state formed through a treaty or agreement between the various units. A federation can be formed by way of  integration or by way of disintegration.

[/showhide]

Q4. Consider the following statements regarding similarity between Indian and Canadian Federal features:/ भारतीय और कनाडाई संघीय विषेशताओं के बीच समानता के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)Both are formed by way of disintegration./ दोनों विघटन के माध्यम से बनते हैं

(2)Both have a centralising tendency and are biased towards centre./ दोनों एक केंद्रीकृत प्रवृत्ति है और केंद्र के प्रति पक्षपाती हैं।

(3)India as well Canada consider themselves as a ‘Union’ and have used the term ‘Union’ instead of ‘Federation’./ भारत और कनाडा भी खुद को ‘संघ’ के रूप में मानते हैं और ‘फेडरेशन’ के बजाय ‘संघ’ शब्द का इस्तेमाल करते हैं।

Which of the statement (s) given above is/are not incorrect?/ उपरोक्त कथनों में से कौन सा गलत नहीं है?

(a)1 and 2/ 1 और 2

(b)2 and 3/ 2 और 3

(c)1 and 3/ 1 और 3

(d)1, 2 and 3/ 1, 2 और 3

[showhide type=”links4″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.d

[/showhide]

Q5. Which of the following form a part of the Unitary features of the Indian Constitution?/ निम्नलिखित में से कौन सी भारतीय संविधान की एकात्मक विशेषताओं का एक हिस्सा है?

(1)All- India Services/ अखिल भारतीय सेवाएँ

(2)Integrated Election Machinery/ एकीकृत चुनाव मशीनरी

(3)Absolute veto enjoyed by the President over State bills/ राष्ट्रपति के पास राज्य विधायकों पर वीटो अधिकार है

(4)Independent Judiciary/ स्वतंत्र न्यायपालिका

Select the correct option (s):/ सही विकल्प चुनें:

(a)1, 2 and 3/ 1, 2  और 3

(b)2, 3 and 4/ 2, 3  और 4

(c)1, 3 and 4/  1, 3  और 4

(d)1, 2, 3 and 4/1, 2, 3  और 4

[showhide type=”links5″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.a

[/showhide]

 

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

Posted on Leave a comment

Indian Polity Fundamental Rights :: Solved Questions | Frontier IAS Coaching

Indian Polity Fundamental Rights :: Solved Questions | Frontier IAS Coaching

Indian Polity Fundamental Rights :: Solved Questions | Frontier IAS Coaching

Indian Polity Fundamental Rights
Q1. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर  विचार करें:

(1)Art. 28-30 deals with Cultural and Educational rights./सांस्कृतिक और शैक्षिक अधिकारों अनुच्छेद 28-30 से संबंधित है।

(2)Art. 29 grants ‘any section of citizens’ right to conserve their culture./अनुच्छेद 29  ‘किसी भी भाग के नागरिको ‘अपनी संस्कृति का संरक्षण करने का अधिकार देता  हैं

(3)The expression ‘any section of citizens’ in Art. 29 includes minority as well as majority community./अभिव्यक्ति  ‘नागरिकों का कोई भी हिस्सा’ अनुच्छेद 29 में अल्पसंख्यक और बहुसंख्यक समुदाय शामिल है

Which of the statement(s) given above is/are correct?/ऊपर दिए कथनों में से कौन सा सही है ?

(a)1 and 2/1 और  2

(b)2 and 3/2 और 3

(c)1 and 3/1 और  3

(d)1, 2 and 3/1, 2 और 3

[showhide type=”links1″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.b

Art. 29-30 deals with Cultural and Educational rights.

[/showhide]

Q2. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर  विचार करें:

(1)Only the Supreme Court is empowered to issue writs in cases of violation of Fundamental rights./मौलिक अधिकारों के उल्लंघन के मामलों में केवल उच्चतम न्यायालय को राइट जारी करने का अधिकार है।

(2)Supreme Court can refuse a petition under Art. 32, if an alternate legal remedy is available./सुप्रीम कोर्ट अनुच्छेद 32 के तहत याचिका को अस्वीकार कर सकता है, यदि कोई वैकल्पिक कानूनी उपाय उपलब्ध हो ।

Which of the statement(s) given above is/are correct?/ऊपर दिए कथनों में से कौन सा सही है ?

(a)Only 1/केवल 1

(b)Only 2/केवल 2

(c)Both 1 and 2/1 और 2 दोनों

(d)None of these/इनमे से कोई नहीं

[showhide type=”links2″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.d

Both the Supreme Court and the High Court are empowered to issue writs for enforcement of other fundamental rights specified under Part III of the Constitution.

[/showhide]

Q3. Consider the following :/निम्नलिखित पर विचार करें:

(1)Art. 26-Freedom to manage religious affairs/अनुच्छेद 26- धार्मिक मामलों के प्रबंधन की स्वतंत्रता

(2)Art. 30-Protection of language, script and culture of minorities/अनुच्छेद 30- अल्पसंख्यकों की भाषा, लिपि और संस्कृति का संरक्षण

(3)Art. 21-Right to elementary education/अनुच्छेद  21 – प्राथमिक शिक्षा का अधिकार

(4)Art. 20- Protection in respect of conviction for offences/अनुच्छेद 20-अपराधों के लिए सजा के संबंध में संरक्षण

(5)Art. 18-Abolition of titles except military and academic/अनुच्छेद  18- सैन्य और शैक्षणिक को छोड़कर उपाधि का उन्मूलन

Which of the statement(s) given above is/are correctly matched?/ऊपर दिए कथनों में से कौन सा सही से मिलाया गया है?

(a)1, 3 and 5/1, 3 और 5

(b)1, 4 and 5/1, 4 और 5

(c)1, 2, 4 and 5/1, 2, 4 और 5

(d)1, 3, 4 and 5/1, 3, 4 और 5

[showhide type=”links3″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.b

Art. 26 deals with ‘Freedom to manage religious affairs’.

[/showhide]

Q4. Consider the following statements regarding writs issued by Supreme Court:/सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी किए गए रिटों के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)Writs of ‘Mandamus’ and ‘Certiorari’ can be issued against state and individual both./राज्य और व्यक्तिगत दोनों के खिलाफ ‘परमादेश’ और ‘उत्प्रेषण-लेख’ के रिट जारी किए जा सकते हैं।

(2)Writ of ‘Mandamus’ can be issued only against judicial or quasi-judicial authorities./’परमादेश’ के रिट केवल न्यायिक या अर्ध-न्यायिक प्राधिकरणों के खिलाफ जारी किए जा सकते हैं।

(3)Writ of ‘Prohibition’ issued by a higher court to a court subordinate to it to prevent it from exceeding its jurisdiction./एक उच्च न्यायालय द्वारा जारी किए गए ‘निषेध’ के रिट को इसकी अधीनता वाले न्यायालय में इसे अपने अधिकार क्षेत्र से अधिक होने से रोकने के लिए है।

(4)Writ of ‘Certiorari’ is both preventive as well as curative in nature./ ‘उत्प्रेषण-लेख’ के रिट  प्रकृति में दोनों निरोधक और साथ ही रोगनिवारक हैं।

Which of the statement(s) given above is/are not untrue?/ऊपर दिए गए कथनों  में से कौन सा गलत नहीं है?

(a)1, 2 and 3/1, 2 और 3

(b)3 and 4/3 और 4

(c)2, 3 and 4/2, 3 और 4

(d)1, 2 and 4/1, 2 और 4

[showhide type=”links4″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.b

Writs of ‘Mandamus’ and ‘Certiorari’ can be issued only against the state and not an individual.

[/showhide]

Q5. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)Fundamental rights are sacrosanct in nature./मौलिक अधिकार प्रकृति में पुण्यमय हैं

(2)The State should grant compensation when it acquires the property of minority educational institution./राज्य को अल्पसंख्यक शिक्षा संस्थान की संपत्ति का अधिग्रहण करने पर मुआवजा देना चाहिए।

(3)Fundamental rights enunciated under Art. 15, Art. 16, Art. 19 and Art. 30 are available to both citizens and foreigners./अनुच्छेद 15, अनुच्छेद 16, अनुच्छेद 19 और अनुच्छेद 30 के तहत तैयार किए गए मौलिक अधिकार नागरिक और विदेशियों दोनों के लिए उपलब्ध हैं

(4)Art. 31C cannot be subjected to judicial review./अनुच्छेद 31C को न्यायिक समीक्षा के अधीन नहीं किया जा सकता है

Which of the statement(s) given above is/are false?/उपरोक्त कथनों में से कौन सा गलत है?

(a)1, 3 and 4/ 1, 3 और 4

(b)1, 2 and 4/1, 2 और 4

(c)1, 2 and 3/1, 2 और 3

(d)2, 3 and 4/2, 3 और 4

[showhide type=”links5″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.a

Fundamental rights are not sacrosanct in nature. It means that they can be abolished by the Parliament and they are not permanent.

[/showhide]

 

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

Posted on Leave a comment

Polity Salient Features of Constitution MCQs | UPSC IAS Preparation

Polity Salient Features of Constitution MCQs | UPSC IAS Preparation

Polity Salient Features of Constitution MCQs | UPSC IAS Preparation

Polity Salient Features of Constitution
Q1. Which of the following is a feature of Indian Constitution?/निम्नलिखित में से कौन सी भारतीय संविधान की एक विशेषता है?

(1)Unwritten Constitution/अलिखित संविधान

(2)Democratic nature of the State/राज्य की लोकतांत्रिक प्रकृति

(3)Special provision for scheduled areas/निर्धारित क्षेत्रों के लिए विशेष प्रावधान

(4)Self-government/स्वशासन

Select the correct option:/सही विकल्प का चयन करें:

(a)1, 2 and 3/1, 2 और 3

(b)2, 3 and 4/2, 3 और 4

(c)1, 2 and 4/1, 2 और 4

(d)1, 2 , 3 and 4/1, 2, 3 और 4

[showhide type=”links1″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.b

Indian Constitution is the longest written Constitution.

[/showhide]

Q2. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)The Constitution originally contained 448 Articles in 25 Parts./संविधान में मूल रूप से 25 भागों में 448 अनुच्छेद शामिल थे।

(2)The Constitution lays down special procedure for Constitutional Amendments./संविधान में संवैधानिक संशोधन के लिए विशेष प्रक्रिया शामिल है |

(3)The Constitution is the Supreme law of the land./संविधान देश का सर्वोच्च कानून है।

Which of the statements given above is/are not incorrect?/ऊपर दिए गए कथनों में से कौन सा गलत नहीं है?

(a)1 and 2/1 और 2

(b)2 and 3/2 और 3

(c)1 and 3/1 और 3

(d)1, 2 and 3/1, 2 और 3

[showhide type=”links2″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.b

Originally the Constitution contained a Preamble, 395 Articles in 22 Parts, 8 Schedules and 5 appendices.

[/showhide]

Q3. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)Fundamental Rights are absolute./मौलिक अधिकार असीमित हैं

(2)Directive Principles are non justiciable./निर्देशक सिद्धांत गैर न्यायोचित है।

(3)Directive Principles serve as a negative directions to the State./निर्देशक सिद्धांत राज्य के लिए एक नकारात्मक दिशा के रूप में काम करते हैं।

Which of the statements given above is/are false?/ऊपर दिए गए कथन में से कौन सा गलत है?

(a)1 and 2/1 और 2

(b)2 and 3/2 और 3

(c)1 and 3/1 और 3

(d)1, 2 and 3/1, 2  और 3

[showhide type=”links3″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.c

Fundamental rights are not absolute, they are subjected to some limitations.

[/showhide]

Q4. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)The Constitution makers preferred stable government over responsible government./संविधान निर्माताओं ने जिम्मेदार सरकार से ज्यादा स्थिर सरकार को प्राथमिकता दी।

(2)Democratic Decentralisation is a feature of Indian Constitution./लोकतान्त्रिक विकेंद्रीकरण भारतीय संविधान की एक विशेषता है |

(3)The Seventh Schedule consists of 22 languages recognised by the Constitution./सातवीं अनुसूची में संविधान द्वारा मान्यता प्राप्त 22 भाषाएँ शामिल हैं।

Which of the statements given above is/are not incorrect?/ऊपर दिए गए कथनों में से कौन सा गलत नहीं है?

(a)1 and 2/1 और 2

(b)Only 1 /केवल 1

(c)Only 2/केवल 2

(d)Only 3/केवल 3

[showhide type=”links4″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.c

The Constitution makers preferred Parliamentary system (responsible government) over Presidential System (stable government).

[/showhide]

Q5. Consider the following statements:/निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)Art. 12-35 deals with the Fundamental Rights./अनुच्छेद 12-35 मौलिक अधिकारों से संबंधित है |

(2)Art. 365 deals with the Amendment of the Constitution./अनुच्छेद 365 संविधान के  संशोधन से सम्बंधित है।

(3)There are 11 Schedules in the Constitution of India./भारत के संविधान में 11 अनुसूचियां हैं|

Which of the statements given above is/are correct?/ऊपर दिए गए कथन में से कौन सा सही है?

(a)1 and 2/1 और 2

(b)Only 1/केवल 1

(c)Only 2/केवल 2

(d)2 and 3/2 और 3

[showhide type=”links5″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.b

Art. 12-35 in Part III of the Constitution deals with the Fundamental Rights.

[/showhide]

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

 

Posted on Leave a comment

Polity Non Constitutional Bodies | UPSC – IAS | Frontier IAS Coaching

Polity Non Constitutional Bodies | UPSC – IAS | Frontier IAS Coaching

Polity Non Constitutional Bodies | UPSC – IAS | Frontier IAS Coaching

Polity Non Constitutional Bodies
Q1. Consider the following statements in relation to NITI Aayog:/  नीति आयोग के संबंध में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)NITI is an acronym for ‘National Institute for Transforming India’./ एनआईटीआई ‘नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया’ के लिए एक संक्षिप्त शब्द है

(2)The Vice-Chairperson of NITI Aayog is appointed by the Chairperson of NITI Aayog./ नीति आयोग के उपाध्यक्ष, नीति आयोग के अध्यक्ष द्वारा नियुक्त किया जाता है।

(3)The Team India Wing of NITI Aayog provides a platform for national collaboration and comprises of representatives from every state./ नीति आयोग के टीम इंडिया विंग राष्ट्रीय सहयोग के लिए एक मंच प्रदान करता है और इसमें हर राज्य के प्रतिनिधि शामिल हैं।

Which of the statement (s) given above is/are not untrue?/ ऊपर दिए गए कथनों में से कौन सा  गलत नहीं है?

(a)1 and 2/ 1 और  2

(b)2 and 3/ 2 और  3

(c)1 and 3/ 1 और  3

(d)1, 2 and 3/ 1, 2 और  3

[showhide type=”links1″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.d

The acronym ‘NITI’ stands for ‘National Institute for Transforming India’.

[/showhide]

Q2. Consider the following statements regarding erstwhile Planning Commission:/ पूर्व योजना आयोग के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)It was a Constitutional body./ यह एक संवैधानिक निकाय था।

(2)The Deputy Chairman of Planning Commission is a member of cabinet and is invited to attend all its meetings./ योजना आयोग के उपाध्यक्ष कैबिनेट के सदस्य हैं और उन्हें सभी बैठकों में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाता है।

(3)It is only an advisory body and its recommendations are not binding on the government./ यह केवल एक सलाहकार निकाय है और इसकी सिफारिशें सरकार पर बाध्यकारी नहीं हैं।

Which of the statement (s) given above is/are incorrect?/ उपरोक्त कथनों में से कौन सा गलत है?

(a)1 and 2/ 1 और 2

(b)2 and 3/ 2 और  3

(c)1 and 3/ 1 और 3

(d)1, 2 and 3/ 1, 2 और 3

[showhide type=”links2″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.a

The Planning Commission is a non-Constitutional body.

[/showhide]

Q3. Consider the following statements regarding National Development Council:/ राष्ट्रीय विकास परिषद के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)The Sarkaria Commission recommended to give it a Constitutional status./सरकारी आयोग ने इसे संवैधानिक दर्जा देने की सिफारिश की थी

(2)Only some Cabinet Ministers are members of NDC./ केवल कुछ कैबिनेट मंत्रियों एनडीसी के सदस्य हैं।

(3)Same person acts as Secretary to Planning Commission and Secretary to National Development Council./ एक ही व्यक्ति योजना आयोग के सचिव और राष्ट्रीय विकास परिषद के सचिव के रूप में कार्य करता है।

Which of the statement (s) given above is/are correct?/ उपरोक्त कथनों में से कौन सा सही है?

(a)1 and 2/ 1 और  2

(b)2 and 3/ 2 और  3

(c)1 and 3/ 1 और  3

(d)1, 2 and 3/ 1, 2 और  3

[showhide type=”links3″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.c

The Sarkaria Commission recommended to give it a Constitutional status.

[/showhide]

Q4. Consider the following statements regarding approval of the Five-Year Plan:/ पंचवर्षीय योजना के अनुमोदन के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

(1)The Planning Commission is responsible to draft a Five-Year Plan for the nation./ योजना आयोग देश के लिए एक पंचवर्षीय योजना का प्रारूप तैयार करने के लिए जिम्मेदार है।

(2)With its approval, the plan becomes official and is published in the official gazette./ इसकी अनुमोदन के साथ, यह योजना आधिकारिक होती है और आधिकारिक राजपत्र में प्रकाशित होती है।

(3)Then the plan is presented to the Parliament./ तब योजना संसद को प्रस्तुत की जाती है

(4)Then, it is submitted to the Union Cabinet for its approval./ इसके बाद,इसकी मंजूरी के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल में प्रस्तुत किया जाता है।

(5)After that, it is placed before National Development Council for its approval./ उसके बाद, इसे अनुमोदन के लिए राष्ट्रीय विकास परिषद के समक्ष प्रस्तुत किया जाता  है।

Arrange the following in the correct order of last to first.

(a)1, 5, 4, 3, 2

(b)2, 5, 4, 3, 1

(c)1, 4, 5, 3, 2

(d)2, 3, 5, 4, 1

[showhide type=”links4″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.d

The Draft Five-Year Plan prepared by the Planning Commission is first submitted to the Union cabinet.

[/showhide]

Q5. Which of the following pillars form the basis of NITI Aayog?/ निम्नलिखित स्तंभों में से कौन सा नीति आयोग के आधार के रूप में है ?

(1)Pro-people agenda in fulfilling aspirations of individual and society./ व्यक्तिगत और समाज की आकांक्षाओं को पूरा करने में समर्थकों की कार्यसूची

(2)Inclusive approach and involvement of citizens/ समावेशी दृष्टिकोण और नागरिकों की भागीदारी

(3)Retrospective legislation to change the rules./ नियमों को बदलने के लिए पूर्वव्यापी कानून

(4)Empowerment of women/ महिलाओं का सशक्तिकरण

Select the correct option:/ सही विकल्प का चयन करें:

(a)1, 2 and 3/ 1, 2 और 3

(b)2, 3 and 4/ 2 ,3 और 4

(c)1, 2 and 4/ 1, 2 और 4

(d)1, 2, 3 and 4/ 1, 2, 3 और 4

[showhide type=”links5″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”]

Ans.c

[/showhide]

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

 

Posted on Leave a comment

Judiciary Of Haryana Study Material || Know Your Haryana

Judiciary Of Haryana Study Material || Know Your Haryana

Judiciary Of Haryana Study Material || Know Your Haryana

Judiciary Of Haryana

Punjab and Haryana High Court

  • The High Court of Punjab and Haryana, is a common institution for the States of Punjab, Haryana and the Union territory of Chandigarh. Capital city Chandigarh is located in the foothills of Shivalik Range.
  • Architect of Punjab and Haryana High Court was French Architect Le Corbusier
  • Established under Government of India Act 1915 in 1919.
  • At the time of independence Chief Justice was Mr. Ram Lal
  • At the time of Implementation of constitution Chief Justice was Mr. Eric Weston

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय

  • पंजाब और हरियाणा का उच्च न्यायालय पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ की एक सांझी संस्था है। राजधानी चंडीगढ़ शिवालिक रेंज की तलहटी में स्थित है।
  • पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के वास्तुकार फ्रांसीसी वास्तुकार ले कॉर्बूसियर थे
  • इसे 1919 में भारत सरकार अधिनियम,1915 के तहत स्थापित किया गया था।
  • आजादी के समय मुख्य न्यायाधीश श्री राम लाल थे।
  • संविधान के कार्यान्वयन के समय मुख्य न्यायाधीश श्री एरिक वेस्टन थे

Local Self Government and  Panchayati Raj

  • Local Self Government can be Described as the administration of a Locality like a city , a town  , a village or a community.
  • Local Self Governments in Haryana are
  1.  Municipal Bodies
  2.  Panchayats
  • Lord Rippon is known as the Father of Local Self Government

स्थानीय स्व सरकार और पंचायती राज

  • स्थानीय स्व सरकार को एक शहर, एक गांव या एक समुदाय जैसे इलाके के प्रशासन के रूप में वर्णित किया जा सकता है।
  • हरियाणा में स्थानीय स्व-सरकारें हैं
  1. नगर निकाय
  2. पंचायत
  • लॉर्ड रिपन को स्थानीय स्व-सरकार के जनक के रूप में जाना जाता है

Haryana Staff Selection Commission (earlier Subordinate Services Selection Board)

  • Constituted as per the provision of Article 309 of constitution of India.
  • Chairman Of HSSC is Shri Bharat Bhushan Bharti  
  • Secretary Of HSSC is Shri Mahavir Kaushik
  • Haryana Staff Selection Commission was established on 28 January  , 1970

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (पहले अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड)

  • इसका गठन भारत के संविधान के अनुच्छेद 309 के प्रावधान के अनुसार हुआ था।
  • एचएसएससी के अध्यक्ष श्री भारत भूषण भारती हैं।
  • एचएसएससी सचिव श्री महावीर कौशिक हैं।
  • हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की स्थापना 28 जनवरी, 1970 को हुई थी।

 

For More Articles You Can Visit On Below Links :

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

Posted on Leave a comment

Executives and Legislature of Haryana- Study Material & Notes

Executives and Legislature of Haryana- Study Material & Notes

Executives and Legislature of Haryana- Study Material & Notes

Executives and Legislature  of Haryana

Formation Of Haryana

  • At the time of Independence Of India Haryana was a part of Punjab Province.
  • In 1949 , Bhimsen Sachhar was the chief Minister Of this State , During His tenure a dispute on Language was occurred , to overcome this Problem, A Sachhar Formula was created Which was Implemented on 1st October , 1949.
  • According to Sachhar Formula , The Province Of Punjab was divided into Two region:
    1. Punjabi Region
    2. Hindi Region

हरियाणा का गठन

  • भारत की आजादी के समय हरियाणा पंजाब प्रांत का हिस्सा था।
  • 1949 में, भीमसेन सच्चर इस प्रांत के मुख्यमंत्री थे, उनके कार्यकाल के दौरान  भाषा को लेकर विवाद हुआ था, इस समस्या को दूर करने के लिए  एक सच्चर फॉर्मूला बनाया गया था जिसे 1 अक्टूबर, 1949 को कार्यान्वित किया गया।
  • सच्चर फॉर्मूला के अनुसार, पंजाब प्रांत को दो क्षेत्र में बांटा गया:
    1. पंजाबी क्षेत्र
    2. हिंदी क्षेत्र

Ministry Of Haryana

  • According to 91st Amendment , 2003  , 15% of members can be included in Ministry , in Haryana it is Disputed that If there will be 13 ministers or 14 ministers in cabinet. on This dispute decision is pending.
  • At present we have 14 ministers in cabinet in Haryana.

हरियाणा मंत्रालय

  • 91 वें संशोधन के अनुसार, 2003 में 15% सदस्यों को मंत्रालय में शामिल किया जा सकता है, हरियाणा में यह विवादित है कि कैबिनेट में 13 मंत्री या 14 मंत्री होंगे। इस विवाद निर्णय पर लंबित है।
  • वर्तमान में हरियाणा में कैबिनेट में हमारे 14 मंत्री हैं।

Legislature Of Haryana

  • The primary role of legislative assembly is to frame bills.
  • It also passes Annual Budget and Finance bills.
  • The governor is appointed by the president of India(Art. 155).
  • The governor’s duties for state are similar to duties of president for the country.
  • The governor can summon and prologue the assembly or can even dissolve the same.

हरियाणा के विधानमंडल

  • विधानसभा की प्राथमिक भूमिका विधेयक को तैयार करना है।
  • यह वार्षिक बजट और वित्तीय विधेयक  भी पास करता है।
  • राज्यपाल को भारत के राष्ट्रपति (art. 155) द्वारा नियुक्त किया जाता है।
  • राज्य के लिए राज्यपाल के कर्तव्य देश के राष्ट्रपति के कर्तव्यों के समान हैं।
  • राज्यपाल विधानसभा को बुला सकता है और प्रस्ताव दे सकता है या उसे भी भंग कर सकता है।

 

For More Articles You Can Visit On Below Links :

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel