Posted on Leave a comment

Economics Market Forces of Demand and Supply | UPSC-IAS Preparation

Economics Market Forces of Demand and Supply | UPSC-IAS Preparation
Q1. Which of the following statements is/are true?/ निम्न में कौन सा/ से कथन सत्य है/हैं ?
  1. The market is governed by the forces of demand and supply. बाजार माँग तथा पूर्ति की शक्तियों द्वारा शासित है |
  2. According to law of demand, price and quantity of a good demanded are directly proportional, if other factors are kept constant./ माँग के नियम के अनुसार, यदि अन्य तत्व समान रखे जाते हैं तो, कीमत तथा वस्तु की मांगी गयी मात्रा प्रत्यक्ष रूप से समानुपातिक होती है |
Select the correct answer using the codes given below:/ नीचे दिए गए विकल्पों का इस्तेमाल करते हुए सही उत्तर का चयन करें :
  1. Only 1/ केवल 1
  2. Only 2/ केवल 2
  3. Both 1 and 2/ 1 और 2 दोनों
  4. Neither 1 nor 2/ ना तो 1 ना ही 2
[showhide type=”links1″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.a
  • The market is governed by the forces of demand and supply./ बाजार माँग तथा पूर्ति की शक्तियों के द्वारा शासित होता है |
[/showhide] Q2. Consider the following statements:/ निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
  1. Veblen good is an exception to the law of demand./ वेब्लेन वस्तु माँग के नियम की एक अपवाद है |
  2. A giffen good is a high quality product whereas a veblen good is an inferior product./ एक गिफेन वस्तु उच्च गुणवत्ता वाली वस्तु होती है जबकि वेब्लेन वस्तु एक  निम्नकोटि का उत्पाद है |
Which of the statements given above is/are correct?/ दिए गए कौन से कथन सही हैं?
  1. Only 1/ केवल 1
  2. Only 2/ केवल 2
  3. Both 1 and 2/1 और 2 दोनों
  4. Neither 1 nor 2/ ना तो 1 ना ही 2
[showhide type=”links2″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.a
  • Veblen good contradicts law of demand./ वेब्लेन वस्तु माँग के नियम का खंडन करती है |
[/showhide] Q3. The quantity demanded of any good is the amount of good that buyers are: /किसी वस्तु की मांगी गयी मात्रा वह मात्रा है जिसे क्रेता :
  1. able to buy/ क्रय करने के योग्य हैं |
  2. willing to buy/ क्रय करना चाहते हैं |
  3. able and willing to sell/ बेचने के योग्य हैं तथा बेचना चाहते हैं |
  4. able and willing to buy/क्रय करने के योग्य हैं एवं क्रय करना चाहते हैं |
[showhide type=”links3″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.d
  • The quantity demanded of any good is the amount of good that buyers are able and willing to purchase./किसी भी वस्तु की मांगी गयी मात्रा वह मात्रा है जिसे क्रेता क्रय करने के योग्य हैं एवं क्रय करना चाहते हैं |
[/showhide] Q4.   If the price of a commodity or good is raised then which of the following can be the possible consequences?/यदि की वस्तु की कीमत बढती है, संभावित परिणाम निम्न में से कौन हो सकते हैं ?
  1. Increase in demand by consumers/ उपभोक्ताओं के द्वारा माँग में वृद्धि
  2. Decrease in demand by the consumers/ उपभोक्ताओं द्वारा माँग में कमी
  3. Increase in supply by the sellers/ विक्रेताओं के द्वारा पूर्ति में वृद्धि
  4. Decrease in supply by the sellers/ विक्रेताओं के द्वारा पूर्ति में कमी
  5. Increase in the taxes collected by the government/ सरकार के द्वारा वसूले गए करों में वृद्धि |
Select the correct answer using the codes given below:/नीचे दिए गए विकल्पों का उपयोग करते हुए सही उत्तर का चयन करें :
  1. 1 and 3/1 और 3
  2. 2 , 3 and 5/2,3, और  5
  3. 2 and 3/2 और  3
  4. 1, 3 and 5/1,3, और  5
[showhide type=”links4″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.b
  • If the price of a good is increased then the customers will demand less of the product but sellers will produce more quantity of that good./यदि किसी वस्तु की कीमत बढ़ जाती है तो उपभोक्ता उसकी माँग कम करेंगे किन्तु विक्रेता अधिक मात्रा में उस वस्तु का उत्पादन करेंगे |
[/showhide] Q5.    Which of the following statements is correct?/ निम्न में से कौन से कथन सही हैं?
  1. An increase in the price of a good shifts the supply curve to the right./ वस्तु की कीमत में वृद्धि पूर्ति वक्र को दाहिने तरफ खिसका देती है |
  2. A decrease in the price of good shifts the demand curve to the right./वस्तु की कीमत में कमी माँग वक्र को दाहिने तरफ खिसका देती है |
Select the correct answer using the codes given below:/ नीचे दिए गए विकल्पों का इस्तेमाल करते हुए सही उत्तर का चयन करें:
  1. Only 1/केवल 1
  2. Only 2/केवल 2
  3. Both 1 and 2/ 1 और 2 दोनों
  4. Neither 1 nor 2/ ना तो 1 ना ही 2
[showhide type=”links5″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.c
  • If the price of a good is increased, its supply increases. Therefore the supply curve will shift rightwards./ यदि किसी वस्तु की कीमत बढती है, तो उसकी पूर्ति बढ़ जाती है | इसलिए, पूर्ति वक्र दाहिनी तरफ खिसकेगी |
[/showhide] Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)   

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel



Posted on Leave a comment

Economics : Human Development Solved Questions | UPSC IAS Exam

Economics : Human Development Solved Questions | UPSC IAS Exam Q1. Consider the following statements related to Poverty: / गरीबी के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें :
  1. Poverty is currently estimated by the Planning Commission. / वर्तमान में गरीबी योजना आयोग द्वारा आकलित की जाती है |
  2. The ‘poverty gap’ represents a minimum level of “acceptable” economic participation in a given society at a given point of time. / एक निर्धारित समय और समाज में ‘स्वीकार्य’ आर्थिक भागीदारी के न्यूनतम स्तर को ‘गरीबी अंतराल’ दर्शाती है |
  3. Chronic poverty persists over  a long period of a time may be years or lifelong. / बहुकालीन गरीबी एक लम्बी अवधि तक रह सकती है जो कि कई वर्ष या पूर्ण जीवन तक हो सकती है |
Select the incorrect statements using the codes given below: / नीचे दिए गए संकेतों का प्रयोग कर असत्य कथनों का चयन करे :
  1. 1 and 2 / 1 और 2
  2. 2 and 3 / 2 और 3
  3. 1 and 3 / 1 और 3
  4. 1, 2 and 3 / 1,2 और 3
[showhide type=”links1″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.a
  • Poverty is currently estimated by NITI Aayog.
[/showhide] Q2. The Rangarajan Committee was set up Planning Commission to estimate a poverty line. Consider the following statements with reference to the Committee: / योजना आयोग द्वारा गठित रंगराजन समिति गरीबी रेखा को निर्धारित करने के लिए हुई थी | समिति से जुड़े निम्नलिखित कथनों पर विचार करें :
  1. It calculated separate poverty line for rural India and urban India. / इसने ग्रामीण और शहरी भारत के लिए अलग-अलग गरीबी रेखा की गणना की |
  2. It decreased the calorie requirements of individuals as compared to previous calorie requirements calculated. / पिछले बार गणना की गई आवश्यक कैलोरी की तुलना में इसने व्यक्ति विशेष की आवश्यक कैलोरी को घटा दिया |
  3. It calculated average requirements based on ICMR norms. / इसने आईसीएम्आर मापदंडों के आधार पर औसत आवश्यकताओं की गणना की |
Select the correct answer using the codes given below: / नीचे दिए गए संकेतों का प्रयोग कर सत्य कथनों का चयन करे :
  1. 1 and 2 / 1 और 2
  2. 1 and 3 / 1 और 3
  3. 2 and 3 / 2 और 3
  4. 1, 2 and 3 / 1,2 और 3
[showhide type=”links2″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.d [/showhide] Q3. Which of the following is used to measure inequalities prevailing in the society? / निम्नलिखित में से कौन समाज में विद्यमान असमानता को मापने के लिए प्रयोग किया जाता है ?
  1. Engel’s law / एंगेल का नियम
  2. Gini coefficient / गिनी गुणक
  3. Lorenz curve/ लोरेन्ज वक्र
  4. Trickle down theory / टपकन सिद्धांत
Select the correct answer using the codes given below: / नीचे दिए गए संकेतों का प्रयोग कर सत्य कथनों का चयन करे :
  1. 1 and 2 / 1 और 2
  2. 2, 3 and 4 / 2, 3 और 4
  3. 2 and 3 / 2 और 3
  4. 1, 3 and 4 / 1, 3 और 4
[showhide type=”links3″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.c
  • Gini coefficient and Lorenz curve are used to measure inequalities prevailing in society.
[/showhide] Q4.   Unemployment in a developing country is caused normally because of: / एक विकासशील राष्ट्र में बेरोजगारी का कारण है :
  1. Natural calamities / प्राकृतिक आपदा
  2. Recession / मंदी
  3. Switching of jobs / नौकरी का बदलना
  4. Lack of complementary factors of production / उत्पादन के पूरक तत्वों में कमी
[showhide type=”links4″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.d
  • Unemployment in a developing country is caused normally because of lack of complementary factors of production.
[/showhide] Q5.    The expression ‘Labour force’ comprises: / शब्द ‘श्रमिक दल’ से तात्पर्य है :
  1. People employed in various jobs / विभिन्न कार्यों में कार्यरत व्यक्ति
  2. People seeking employment / रोजगार की खोज करने वाले व्यक्ति
  3. People employed in a job but not of their choice / नौकरी में कार्यरत व्यक्ति लेकिन अपनी पसंद की नहीं
  4. People employed or seeking employment / कार्यरत या कार्य की खोज करने वाले व्यक्ति
[showhide type=”links5″ more_text=”Show Answer” less_text=”Hide Answer”] Ans.d
  • Labour force includes individuals engaged in work or are available for work.
[/showhide] For More Articles You Can Visit On Below Links : Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)   

RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)   

RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel