HCS RAS Exam Geography Study Material || IAS UPSC Online Preparation

HCS RAS Exam Geography Study Material || IAS UPSC Online Preparation

HCS RAS Exam Geography Study Material || IAS UPSC Online Preparation

HCS RAS Exam Geography Study Material || IAS UPSC Online Preparation

HCS RAS Exam Geography Study Material || IAS UPSC Online Preparation

Agriculture

Major food crops in India

  • Foodgrains are dominant crops and occupy about two-third of total cropped area in India.
  • On the basis of the structure of grain, the foodgrains are classified as cereals and pulses.

Cereals:

  • Occupy about 54 per cent of total cropped area in India.
  • India produces about 11 per cent cereals of the world and ranks third in production after China and U.S.A.
  • Classified as fine grains (rice, wheat) and coarse grains (jowar, bajra, maize, ragi), etc.

Cereals: Rice

  • Rice is the major food crop of the world.
  • It is the staple diet of the tropical and sub-tropical regions.
  • India is the second largest producer of rice in the world after China.
  • it is a preferred staple food in Southern and North-Eastern India.
  • It has about 3,000 varieties which are grown in different agro-climatic regions.

Crop Season

  • Kharif crop
  • Grown only in well irrigated areas in rabi season.
  • Most of the rice growing regions lie barren during summer (April-May).
  • It can be grown as summer crop in deltaic regions where water and irrigation is available through the year. ( Deltaic regions of West Bengal, Krishna-Godavari delta etc.)
  • In West Bengal farmers grow three crops of rice called ‘aus’, ‘aman’ and ‘boro’.

Climatic Conditions for Growth

  • Height needed: 0 to 2,500 meters above sea level.
  • Temp: above 25°C and high humidity
  • The fields must be flooded under 10-12 cm deep water at the time of sowing.
  • Average annual rainfall > 100 cm

Soil condition for growth:

  • Loamy soils E.g. Delta regions, Punjab, Haryana and North Indian plains.
  • Clayey soils E.g. Coastal plains of south India, irrigated regions of Karnataka, Telangana etc.

Cereals: Wheat

  • Second most important cereal crop in India after rice.
  • Rich source of calcium, thiamine, riboflavin and iron.
  • Preferred staple food in northern and north-western parts of the country.

Climatic Conditions for Growth

  • Temperate crop which requires a cool climate with moderate rainfall.
  • Can be grown in tropics as well (yields are low).
  • Rabi crop
  • Rainfall : 50cm-75 cm
  • Light drizzles and cloudiness at the time of ripening increases the yield.

Soil condition for growth

  • Well drained fertile, mostly alluvial and clay loams are the best for wheat cultivation.
  • It also grows well in the black soil of the Deccan plateau.
  • Being a rabi crop, it is mostly grown under irrigated conditions.
  • But it is a rainfed crop in Himalayan highlands and parts of Malwa plateau in Madhya Pradesh.

HCS RAS Exam Geography Study Material

भारत की मुख्य खाद्य फसलें

  • अनाज एक प्रमुख फसल है तथा भारत के कुल क्षेत्रफल के दो-तिहाई भाग पर उपलब्ध है |
  • दानों की सरंचना के आधार पर अनाज को खद्यान्न तथा दाल के रूप में विभाजित किया जा सकता है |

खद्यान्न :

  • यह भारत के कुल फसली क्षेत्र के लगभग 54 प्रतिशत भाग उपलब्ध है |
  • भारत दुनिया के 11 प्रतिशत अनाज का उत्पादन करता है और चीन और अमेरिका के  बाद उत्पादन में इसका तीसरा स्थान है।
  • इन्हे महीन अनाज (चावल, गेहूं)  और मोटे अनाज (ज्वार, बाजरा, मक्का, रागी) आदि के रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है |

खाद्यान्न : चावल

  • चावल दुनिया की प्रमुख खाद्य फसल है |
  • यह उष्णकटिबंधीय और उप-उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों का मुख्य आहार है।
  • भारत चीन के बाद दुनिया में चावल का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश है।
  • यह दक्षिण और उत्तर-पूर्वी भारत में मुख्य आहार के रूप में प्रयोग किया जाता है |
  • इसकी लगभग 3,000 किस्में हैं जो कि विभिन्न कृषि-जलवायु क्षेत्रों में उगाई जाती हैं।

फसली ऋतुएँ

  • खरीफ की फसल
  • यह रबी के मौसम में पर्याप्त सिंचाई वाले क्षेत्रों में उगाया जाता है |
  • अधिकाँश चावल उगाने वाले क्षेत्र गर्मी के मौसम (अप्रैल-मई )में बंजर रहते है |
  • डेल्टाई क्षेत्रों में यह ग्रीष्म ऋतु की फसल के रूप में उगाई जाती है क्यूंकि यहाँ पर जल एवं सिंचाई पुरे वर्ष उपलब्ध रहता है | (पश्चिम बंगाल के डेल्टाइ क्षेत्र, कृष्णा-गोदावरी डेल्टा आदि)
  • पश्चिम बंगाल के किसान तीन प्रकार के चावल उगाते है ये हैं – ओस,अमन,बोरो

उपज के लिए जलवायु की स्थिति

  • आवश्यक ऊँचाई : समुद्र तल से 0 से 2,500 मीटर ऊपर।
  • तापमान : 25 डिग्री सेल्सियस से अधिक और उच्च आर्द्रता
  • बुवाई के समय खेतों में 10-12 सेमी गहरे पानी की आवश्यकता होती है |
  • औसत वार्षिक वर्षा 100 सेमी से अधिक होनी चाहिए  

उपज के लिए मृदा की स्थिति

  • चिकनी मिटटी : डेल्टा क्षेत्र जैसे पंजाब, हरियाणा और उत्तर भारतीय मैदान |
  • मृत्तिकामय मिट्टी : दक्षिण भारत के तटीय मैदान,कर्नाटक, तेलंगाना आदि के पर्याप्त सिंचाई वाले क्षेत्र |

खाद्यान्न : गेहूं

  • चावल के बाद यह भारत की  दूसरी सबसे महत्वपूर्ण खाद्य फसल है |
  • कैल्शियम, थाइमिन (विटामिन B1 ) रिबोफ्लेविन तथा आयरन का समृद्ध स्रोत है |
  • यह देश के उत्तरी और उत्तर-पश्चिमी भागों में मुख्य आहार के रूप में उपयोग किया जाता है |

उपज के लिए जलवायु की स्थिति

  • यह शीतोष्ण कटिबंधीय  फसल है इसे  मध्यम वर्षा के साथ एक शांत जलवायु की आवश्यकता होती है।
  • ये उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में भी उगाये जा सकते है |
  • रबी की फसल
  • आवश्यक वर्षा स्तर : 50 सेमी – 75 सेमी

उपज के लिए मृदा की स्थिति

  • सुगम जल निकासी वाली मृदा, अधिकांशतः जलोढ़ तथा दुमट मिटटी गेहूं की खेती के लिए उपयुक्त है |
  • यह  दक्कन पठार की काली मिट्टी में अच्छी तरह वृद्धि करती है |
  • एक रबी फसल होने के कारण, इसे उपयुक्त सिंचाई की स्थिति में उगाया जाता है |
  • परन्तु हिमालय के उच्च क्षेत्रों मालवा पठार के कुछ हिस्सों में यह वर्षा निर्भर फसल है |

Cereals: Jowar

  • The coarse cereals together occupy about 16.5 per cent of total cropped area in the country.
  • Among these, jowar or sorghum alone accounts for about 5.3 per cent of total cropped area.
  • Rainfed crop of dry farming areas.
  • Grown both as kharif as well as a rabi crop in southern states while as kharif crop in northern states.
  • Does not grow where rainfall >100 cm.
  • Best Soils: Clayey deep regur and alluvium

Cereals: Bajra

  • Bajra is the second most important millet.
  • It occupies about 5.2 per cent of total cropped area in the country.
  • Like jowar, it is also used as food and fodder in drier parts of the country.
  • It is a rainfed kharif crop of dry and warm climate.
  • Annual rainfall: 40-50 cm
  • Best soil:Bajra can be grown on poor light sandy soils, black and red soils.
  • It is sown either as a pure or mixed crop with cotton, jowar and ragi.

Pulses

  • Pulses are  rich sources of proteins.
  • These are legume crops which increase the natural fertility of soils through nitrogen fixation.
  • India accounts for about one-fifth of the total production of pulses in the world.
  • Pulses occupy about 11 per cent of the total cropped area in the country.
  • Main Cultivation areas: drylands of Deccan , central plateaus and northwestern parts of the country.
  • Gram and tur are the main pulses cultivated in India.


Pulses: Gram

  • Gram is the most important of all the pulses.
  • Temperature:20°-25°C
  • Rainfall: 40-50 cm
  • It is a rabi crop.
  • Best Soil: loamy soils.
  • It is cultivated as pure or mixed with wheat, barley, linseed or mustard.
  • Gram is cultivated in subtropical areas.
  • Occupies only about 2.8 per cent of the total cropped area in the country.
  • Leading producers: Madhya Pradesh, Uttar Pradesh, Maharashtra, Andhra Pradesh, Telangana and Rajasthan.

Pulses: Tur

  • Tur is the second most important pulse.
  • It is also known as red gram or pigeon pea
  • Chiefly grown as a kharif crop.
  • In areas of mild winters it is grown as a rabi crop.

खाद्यान्न : ज्वार

  • मोटा अनाज देश के  कुल फसली क्षेत्र के लगभग 16.5 प्रतिशत पर  भाग पर पाया जाता है
  • इनमें से, ज्वार या सोरगम अकेले ही कुल फसली क्षेत्र के  5.3 प्रतिशत भाग पर पाई जाती है |
  • यह शुष्क फसली क्षेत्रों में वर्षा आधारित फसल है |
  • यह दक्षिण भारत में खरीफ तथा रबी दोनों रूपों में उगाई जाती है परन्तु उत्तरी राज्यों में खरीफ फसल के रूप में उगाई जाती है |
  • यह 100 सेमी से अधिक वर्षा-स्तर वाले क्षेत्रों में नहीं उगाई जाती है |
  • उपयुक्त मृदा : मृतिकामय गहरी रेगड़ मिटटी तथा जलोढ़ मृदा

खाद्यान्न : बाजरा

  • बाजरा दूसरी सबसे महत्वपूर्ण ज्वारीय फसल है
  • यह देश में कुल फसली क्षेत्र के  लगभग 5.2 प्रतिशत भाग पर उपलब्ध है |
  • ज्वार की तरह यह भी देश के शुष्क इलाकों में खाद्य तथा चारा फसल के रूप में उपयोग की जाती है  |
  • यह शुष्क और गर्म जलवायु वाले क्षेत्रों में वर्षा निर्भर फसल है |
  • वार्षिक वर्षा-स्तर : 40-50 सेमी
  • उपयुक्त मृदा : बाजरा हल्की रेतीली मिट्टी,काली तथा लाल मृदा पर उगाई जा सकती है |
  • इसे कपास,ज्वार,और रागी के साथ मिश्रित फसल अथवा एकल फसल के रूप में भी बोया जाता है |

दलहन

  • दलहन प्रोटीन के समृद्ध स्रोत हैं |
  • ये फलीदार फसलें है,जो  नाइट्रोजन स्थिरीकरण के माध्यम से मिट्टी की प्राकृतिक उर्वरता को बढ़ाती हैं।
  • विश्व में दलहन के कुल उत्पादन का लगभग पांचवां भाग भारत द्वारा उत्पादित किया जाता है |
  • दलहन देश के कुल फसली क्षेत्र के 11 प्रतिशत भाग पर उपलब्ध है |
  • प्रमुख फसली क्षेत्र : यह दक्क्न ,मध्य पठार तथा  उत्तर-पश्चिम भागों के शुष्क क्षेत्रों में बोयी जाती है |
  • चना और अरहर भारत में मुख्य रूप से उगाई जाने वाली दालें है |

दलहन: चना

  • चना अन्य सभी दलहनों में प्रमुख स्थान रखता है
  • तापमान: 20 डिग्री -25 डिग्री सेल्सियस
  • वर्षा-स्तर : 40-50 सेमी
  • यह एक रबी फसल है |
  • उपयुक्त मिट्टी : दोमट मिट्टी
  • यह एकल अथवा गेहूं, जौ, अलसी या सरसों के साथ मिश्रित फसल के रूप में भी उगाया जाता है
  • उप-उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में  चने की खेती की जाती है।
  • यह देश के कुल फसली क्षेत्र के केवल 2.8 प्रतिशत भाग उपलब्ध है।
  • प्रमुख उत्पादक: मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और राजस्थान।

दलहन: अरहर

  • अरहर दूसरा सबसे महत्वपूर्ण दलहन है |
  • इसे लाल चना अथवा तुवर भी कहते है |
  • इसे मुख्यतः खरीफ फसल के रूप में उगाया जाता है।
  • मध्यम सर्द इलाकों में यह रबी  की फसल के रूप में उगाई जाती है |

Oilseeds

  • The oilseeds are produced for extracting edible oils.
  • Oilseed producing region in India: Drylands of Malwa plateau, Marathwada, Gujarat, Rajasthan, Telangana and Karnataka plateau.
  • These crops together occupy about 14 per cent of total cropped area in the country.
  • Groundnut, rapeseed and mustard, soybean and sunflower are the main oilseed crops grown in India.

Oilseeds: Groundnut

  • Groundnut accounts for nearly half of the major oilseeds produced in India.
  • It covers about 3.6 per cent of total cropped area in the country.
  • It contains 40-50% oil which is used as edible oil .
  • It is largely a rainfed kharif crop of drylands but in southern India, it is cultivated during rabi season as well.
  • Leading producers: Gujarat, Tamil Nadu, Telangana, Andhra Pradesh, Karnataka and Maharashtra
  • Gujarat is the highest producer of groundnut.

Oilseeds: Rapeseed and Mustard

  • Rapeseed and mustard comprise several oilseeds as rai, sarson, toria and taramira.
  • Subtropical crops cultivated during rabi season in north-western and central parts of India.
  • Frost sensitive crops

तिलहन

  • तिलहनों को खाद्य तेल  निकालने के लिए उगाया जाता है |
  • भारत में तिलहन की पैदावर करने वाले क्षेत्र :मालवा पठार, मराठवाड़ा, गुजरात, राजस्थान, तेलंगाना और कर्नाटक के पठारों के शुष्क क्षेत्र में पैदा होती है |
  • ये फसलें देश के कुल फसली क्षेत्र के लगभग 14 प्रतिशत  भाग पर उपलब्ध है |
  • मूंगफली ,कैनोला तथा सरसों ,सोयाबीन तथा सूरजमुखी मुख्य तिलहन फसलें है जो भारत में उगाई जाती है |

तिलहन :मूंगफली

  • भारत में पैदा होने वालो लगभग आधे से ज्यादा तिलहनों में मूंगफली का प्रमुख स्थान है |
  • यह देश के  कुल फसली क्षेत्र के  लगभग 3.6 प्रतिशत भाग पर उपलब्ध है |
  • इसमें 40-50% तेल है जो खाद्य तेल के रूप में उपयोग किया जाता है।
  • यह शुष्क क्षेत्रों की प्रमुख खरीफ फसल है परन्तु दक्षिण भारत में यह रबी के मौसम में भी उगाई जाती है |
  • प्रमुख उत्पादक: गुजरात, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और महाराष्ट्र
  • गुजरात मूंगफली का सबसे बड़ा उत्पादक है

तिलहन: कैनोला तथा सरसों

  • कैनोला तथा सरसों में बहुत सारे तिलहन है जैसे राई,सरसों,तूर्य और तारामिरा  |
  • उत्तर-पश्चिमी और भारत के मध्य भाग में रबी मौसम के दौरान उप-उष्णकटिबंधीय फसलों की खेती की जाती है।
  • यह पाला संवेदनशील फसल है |

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

No Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!