HCS Preparation 2018 | Online Geography Study Content- Frontier IAS

HCS Preparation 2018 | Online Geography Study Content- Frontier IAS

HCS Preparation 2018 | Online Geography Study Content- Frontier IAS

HCS Preparation 2018 | Online Geography Study Content- Frontier IAS

HCS Preparation 2018 | Online Geography Study Content- Frontier IAS

Population Distribution, Density and Growth

Population

  • Population is the pivotal element in social studies.
  • It is the point of reference from which all other elements are observed and from which they derive significance and meaning.
  • Human beings are producers and consumers of earth’s resources.
  • Their numbers, distribution, growth and characteristics or qualities provide the basic background for understanding and appreciating all aspects of the environment.

Census

  • A census is an official enumeration of population done periodically.
  • In India the first census was held in the year 1872.
  • The first complete census, however was taken in the year 1881. Since then censuses have been held regularly every tenth year.

Population distribution

  • India is the second most populous country after China in the world .
  • India’s population is larger than the total population of North America, South America and Australia put together.
  • The percentage shares of population of the states and Union Territories in the country show that Uttar Pradesh has the highest population followed by Maharashtra, Bihar and West Bengal.
  • On the other hand, share of population is very small in the states like Jammu & Kashmir (1.04%), Arunachal Pradesh (0.11%) and Uttarakhand (0.84%) in spite of theses states having fairly large geographical area.
  • Such an uneven spatial distribution of population in India suggests a close relationship between population and physical, socioeconomic and historical factors.

HCS Preparation 2018

जनसंख्या

  • सामाजिक अध्ययन में जनसंख्या एक आधारी तत्व है |
  • यह एक संदर्भ बिंदु है जिससे दूसरे तत्वों का अवलोकन किया जाता है तथा उसके अर्थ एवं महत्व ज्ञात किये जाते है |
  • संसाधन,आपदा एवं विनाश का अर्थ केवल मानव के लिए ही महत्वपूर्ण है |
  • उनकी संख्या,वितरण,वृद्धि एवं विशेषताएं या गुण पर्यावरण के सभी स्वरूपों को समझने तथा उनकी विवेचना करने के लिए मूलपृष्ठ प्रदान करते है |

जनगणना

  • एक निश्चित समय अंतराल में जनसंख्या की आधिकारिक गणना “जनगणना ” कहलाती है |
  • भारत में सबसे पहले 1972 में जनगणना की गई थी
  • हालांकि 1881 में पहली बार एक सम्पूर्ण जनगणना की जा सकी | उसी समय से प्रत्येक 10 वर्ष पर जनगणना होती है |

जनसंख्या वितरण

  • भारत , चीन के बाद विश्व का सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है |
  • भारत की जनसंख्या उत्तरी अमेरिका,दक्षिण अमेरिका और आस्ट्रेलिया की कुल जनसंख्या के योग के बराबर है |
  • भारत के  प्रदेशों तथा संघीय क्षेत्रों का जनसंख्या प्रतिशत यह दर्शाता है की उत्तर प्रदेश की जनसंख्या सबसे अधिक है इसके बाद महाराष्ट्र , बिहार तथा पश्चिम बंगाल का  स्थान आता है |
  • इसके आलावा, जम्मू-कश्मीर (1.04  %) , अरुणाचल प्रदेश (0.11 %) एवं उत्तराखंड (0.84 %) का कुल जनसंख्या प्रतिशत में बहुत कम हिस्सा है जबकि उसकी तुलना में इनका भौगोलिक क्षेत्र अधिक है |
  • भारत में जनसंख्या का ऐसा विषम स्थानिक वितरण देश की जनसंख्या और भौतिक,सामाजिक,आर्थिक तथा ऐतिहासिक कारकों के बीच घनिष्ठ संबंध प्रकट करता है |

Factors determining population distribution:

  • Physical factor: Climate along with terrain and availability of water

Example: North Indian Plains, deltas and Coastal Plains have higher proportion of population than the interior districts of southern and central Indian States, Himalayas, some of the north eastern and the western states.

Socio-economic and historical factors:

  • Evolution of settled agriculture and agricultural development
  • Pattern of human settlement
  • Development of transport network

Industrial development and urbanisation:

  • Urban regions of Delhi, Mumbai, Kolkata, Bangalore, Pune, Ahmedabad, Chennai and Jaipur have high concentration of population due to this.

Growth of Population

  • Growth of population is the change in the number of people living in a particular area between two points of time.
  • Its rate is expressed in percentage.
  • Population growth has two components namely; natural and induced.
  • Natural growth : Analysed by assessing the crude birth and death rates
  • Induced growth: Explained by the volume of inward and outward movement of people in any given area.

जनसंख्या वितरण का निर्धारण करने वाले कारक

  • भौतिक कारक : भू-विन्यास तथा जल की उपलब्धता के साथ जलवायु प्रमुख रूप से वितरण के प्रतिरूपों का निर्धारण करती है |

उदाहरण के लिए: उत्तर भारत के मैदानों,डेल्टाओं और तटीय मैदानों में जनसंख्या का अनुपात दक्षिणी और मध्य भारत के राज्यों आंतरिक जिलों, हिमालय, उत्तर-पूर्वी और पश्चिमी कुछ राज्यों की अपेक्षा उच्चतर है |

सामजिक-आर्थिक एवं ऐतिहासिक कारक

  • स्थायी कृषि का उद्भव और कृषि विकाश
  • मानव बस्ती के प्रतिरूप
  • परिवहन जाल तंत्र का विकास

औद्योगिक विकास और शहरीकरण:

  • दिल्ली,मुंबई,कोलकाता,बेंगलोर,पुणे,अहमदाबाद,चेन्नई और जयपुर के नगरीय क्षेत्र औद्योगिक विकास और नगरीकरण के कारण यहाँ जनसंख्या का सांद्रण उच्च है |

जनसंख्या वृद्धि

  • जनसंख्या वृद्धि दो समय बिन्दुओ के बीच किसी क्षेत्र विशेष में रहने वाले लोगों की संख्या में परिवर्तन को कहते है |
  • इसकी दर को प्रतिशत में अभिव्यक्त किया जाता है |
  • जनसंख्या वृद्धि के दो घटक होते है-प्राकृतिक और अभिप्रेरित
  • प्राकृतिक वृद्धि का विश्लेषण अशोधित जन्म और मृत्यु दरों से निर्धारित किया जाता है |
  • अभिप्रेरित घटकों को किसी दिए गए क्षेत्र में लोगों के अंतर्वर्ती और बहिर्वर्ती संचलन की प्रबलता द्वारा स्पष्ट किया जाता है |

Population Composition

  • Population composition is a distinct field of study within population geography with a vast coverage of analysis of age and sex, place of residence, ethnic characteristics, tribes, language, religion, marital status, literacy and education, occupational characteristics, etc.

Rural – Urban Composition

  • Composition of population by their respective places of residence is an important indicator of social and economic characteristics.
  • This becomes even more significant for a country where about 68.8 per cent of its total population lives in village (2011).

Linguistic Composition

  • India is a land of linguistic diversity.
  • There were 179 languages and as many as 544 dialects in the country.
  • In the context of modern India, there are about 22 scheduled languages and a number of non-scheduled languages.
  • Among the scheduled languages, the speakers of Hindi have the highest percentage.
  • The smallest language groups are Kashmiri and Sanskrit speakers.

Religious Composition

Muslims:

  • Largest religious minority
  • Concentrated in Jammu & Kashmir, certain districts of West Bengal and Kerala, many districts of Uttar Pradesh,in and around Delhi and in Lakshadweep.

Christian:

  • Distributed mostly in rural areas
  • Western coast around Goa, Kerala ,in the hill states of Meghalaya, Mizoram, Nagaland, Chotanagpur area and Hills of Manipur.

जनसंख्या संघटन

  • जनसंख्या संघटन,जनसंख्या भूगोल के अंतर्गत अध्ययन का एक सुस्पष्ट क्षेत्र है जिसमे आयु व लिंग का विश्लेषण,निवास का स्थान,मानवजातीय लक्षण,जनजातियां,भाषा ,धर्म,वैवाहिक स्थिति,साक्षरता और शिक्षा व्यावसायिक विशेषताएं आदि का अध्ययन किया जाता है |

ग्रामीण-नगरीय संघटन

  • अपने अपने निवास के स्थानों के अनुसार जनसंख्या का संघटन सामजिक और आर्थिक विशेषताओं का एक महत्वपूर्ण सूचक है |
  • जब देश की कुल जनसंख्या का 68.8 प्रतिशत भाग गावों में रहता हो तब यह और भी सार्थक हो जाता है (जनगणना 2011 के अनुसार )

भाषाई संघटन

  • भारत भाषाई विविधता का देश है।
  • 1903 से 1928 के दौरान देश में 179 भाषाएं और 544 के लगभग बोलियाँ थी |
  • आधुनिक भारत के संदर्भ में, लगभग 22 अनुसूचित भाषाएं और कई गैर-अनुसूचित भाषाएं हैं|
  • अनुसूचित भाषाओं में, हिंदी बोलने वालों का प्रतिशत सबसे अधिक है।
  • लघुतम भाषा वर्ग कश्मीरी और संस्कृत बोलने वालों का हैं।

धार्मिक संघटन

मुसलमान

  • सबसे बड़ा धार्मिक अल्पसंख्यक समूह है |
  • यह जम्मू -कश्मीर, पश्चिम बंगाल और केरल के कुछ जिलों, उत्तर प्रदेश के कई जिलों में, दिल्ली के आसपास और लक्षद्वीप में फैले हुए है |

ईसाई:

  • ये ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में फैले हुए है |
  • पश्चिमी तट के साथ गोवा एवं केरल और मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, छोटानागपुर क्षेत्र और मणिपुर की पहाड़ियों में पाए जाते है  ।

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

No Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!