Haryana Civil Services 2018 (Study Notes) | Online Material- Geography

Haryana Civil Services 2018 (Study Notes) | Online Material- Geography

Haryana Civil Services 2018 (Study Notes) | Online Material- Geography

Haryana Civil Services 2018 (Study Notes) | Online Material- Geography

Haryana Civil Services 2018 (Study Notes) | Online Material- Geography

Climatic Regions of India

Introduction

  • The whole of India has a monsoon type of climate. But the combination of elements of the weather, however, reveal many regional variations.
  • These variations represent the subtypes of the monsoon climate.
  • A climatic region has a homogeneous climatic condition which is the result of a combination of factors.
  • Temperature and rainfall are two important elements which are considered to be decisive in all the schemes of climatic classification.

Koeppen’s Classification

  • Major climatic types of India based on Koeppen’s scheme.
  • Koeppen’s Classification of Climatic Regions of India is an empirical classification based on mean annual and mean monthly temperature and precipitation data.
  • Koeppen identified a close relationship between the distribution of vegetation and climate.
  • Koeppen’s scheme is based on the monthly values of temperature and precipitation.
  • Koeppen identified five major climatic types—tropical climates, dry climates, warm climates, snow climates and ice- climates.
  • He used letter symbols A, B, C, D and E to denote these climatic types.
  • These five types can be further subdivided into sub-types on the basis of seasonal variations in the distribution pattern of rainfall and temperature.

Subtypes of Climatic types:

  • a: hot summer, average temperature of the warmest month over 22°C
  • c: cool summer, average temperature of the warmest month under 22°C
  • f: no dry season
  • w: dry season in winter
  • s: dry season in summer
  • g: Ganges type of temperature; hottest month comes before the solstice and the summer rainy season.
  • h: average annual temperature under 18°C
  • m (monsoon): short dry season.

Haryana Civil Services 2018

परिचय

  • पूरे भारत में मानसून प्रकार की जलवायु होती है।परन्तु ऋतुओं के तत्वों मिश्रण से विभिन्न प्रकार की क्षेत्रीय विविधताएं पाई जाती है |
  • ये विविधताएं  जलवायु मानसून के ही उपभाग है |
  • जलवायु क्षेत्र की जलवायु स्थितियां एक समान होती है जो विभिन्न कारकों के मिश्रण का परिणाम है |
  • तापमान और वर्षा दो महत्वपूर्ण  कारक है जो जिनसे जलवायु पद्धति का वर्गीकरण होता है |

कोपेन का वर्गीकरण

  • भारत के प्रमुख जलवायु प्रकार कोपेन की पद्धति के आधार पर है |
  • कोपेन पद्धति के अनुसार भारत के जलवायु क्षेत्रों का वर्गीकरण एक आनुभविक पद्धति है जो वर्षा एवं तापमान के मध्यमान वार्षिक एवं मध्यमान मासिक आंकड़ों पर आधारित है |
  • कोपेन ने वनस्पति के वितरण और जलवायु के बीच एक घनिष्ठ संबंध की पहचान की |
  • कोपेन पद्धति तापमान और वर्षा की मासिक मात्रा पर निर्भर करती है |
  • कोपेन ने जलवायु को पांच प्रकार से विभक्त किया-
  • कोपेन ने  जलवायु प्रकार को दर्शाने के लिए  A, B, C, D और E अक्षरों का प्रयोग किया |
  • कोपेन ने पांच प्रमुख जलवायु प्रकारों की पहचान की ये है- उष्णकटिबंधीय जलवायु,शुष्क जलवायु ,कोष्ण जलवायु,तुषार जलवायु,हिम  जलवायु
  • इसके बाद कोपेन ने जलवायु को दर्शाने के लिए अक्षर प्रतीकों का उपयोग किया |
  • वर्षा और तापमान के वितरण पद्धति में मौसमी विविधताओं के आधार पर इन पांच प्रकारों को उप-प्रकारों में विभाजित किया जा सकता है।

जलवायु प्रकारों के उपभाग-

  • a: उष्ण गर्मी, सबसे गर्म महीने का औसत तापमान 22 डिग्री सेल्सियस से अधिक होता है |
  • c: शांत गर्मियां , सबसे गर्म महीने का औसत तापमान 22 डिग्री सेल्सियस से कम होता है |
  • f: शुष्क मौसम नहीं होता है
  • w: सर्दियों में शुष्क मौसम
  • s: गर्मियों में शुष्क मौसम
  • g: गंगा के तापमान जैसा तापमान होता है ; सबसे महीना गर्म अयनांत और ग्रीष्म वर्षा ऋतू से पहले आता है।
  • h: औसत वार्षिक तापमान 18 डिग्री सेल्सियस के नीचे ही रहता है
  • m (मानसून): अल्पकालीन  शुष्क मौसम

Koeppen’s Classification

  • He identified five major climatic types, namely:

A -Tropical climates:

Where mean monthly temperature throughout the year is over 18°C.

Types:

  • Tropical wet (Af)- No dry season
  • Tropical Monsoon (Am)- Monsoonal, short dry season
  • Tropical wet and dry (Aw)- winter dry season

B-Dry climates:

  • Where precipitation is very low in comparison to temperature, and hence, dry. If dryness is less, it is semiarid (S); if it is more, the climate is arid(W).

Types:

  • Subtropical Steppe (BSh)- Low latitude semi arid or dry
  • Subtropical desert (BWh)- Low latitude arid or dry
  • Mid latitude Steppe (BSk)- Mid latitude semi arid or dry

C-Warm temperate climates:

Where mean temperature of the coldest month is between minus 3°C and 18°C.

Types:

  • Humid Subtropical (Cfa)- No dry season , warm summer
  • Mediterranean (Cs)- Dry hot summer

कोपेन का वर्गीकरण

  • कोपेन ने  पांच प्रमुख जलवायु प्रकारों की पहचान की, अर्थात्:

A-उष्णकटिबंधीय जलवायु:

  • जहां पूरे वर्ष का मासिक तापमान 18 डिग्री सेल्सियस से अधिक होता है|

प्रकार:

  • उष्णकटिबंधीय आर्द्र  (F) – कोई शुष्क मौसम नहीं होता है
  • उष्णकटिबंधीय मानसून (M) – मोनसूनल, शीत शुष्क मौसम
  • उष्णकटिबंधीय आर्द्र और शुष्क (Aw) – सर्दियों का शुष्क मौसम

B-शुष्क जलवायु

  • यहाँ तापमान की तुलना में वर्षा बहुत कम होती है ,इसलिए ये जलवायु शुष्क होती है | यदि शुष्कता कम हो तो यह अर्ध-शुष्क (S) होती है ,यदि शुष्कता ज्यादा  हो तो जलवायु शुष्क (W) होती है

प्रकार

  • उपोष्णकटिबंधीय स्टेपी (BSh)- कम अक्षांश वाले अर्ध शुष्क या सूखे
  • उपोष्णकटिबंधीय मरुस्थल (BWh)- कम अक्षांश वाले शुष्क या सूखे
  • मध्य अक्षांश स्टेपी (BSk)- मध्य अक्षांश वाले शुष्क अथवा सूखे

C-कोष्ण समशीतोष्ण जलवायु:

  • यहाँ सबसे ठंडे महीने का तापमान -3 डिग्री सेल्सियस और 18 डिग्री सेल्सियस के बीच होता है |

प्रकार:

  • आर्द्र उपोष्णकटिबंधीय (Cfa)-शुष्क मौसम नहीं होता है , कोष्ण गर्मी |
  • भूमध्य (Cs) -शुष्क कोष्ण गर्मी

Climatic regions of India

Amw (Monsoon type with short dry winter season)

  • Region: Western coastal region, south of Mumbai
  • Annual rainfall over 300 cm

As(Monsoon type with dry season in high sun period)

  • Region: Coromandel coast = Coastal Tamil Nadu and adjoining areas of Andhra Pradesh
  • Annual rainfall: 75 – 100 cm [wet winters, dry summers]

Aw (Tropical Savannah type):

  • Region: Most parts of the peninsular plateau barring Coromandel and Malabar coastal strips
  • Annual rainfall: 75 cm

BShw (Semi-arid Steppe type):

  • Region: Some rain shadow areas of Western Ghats, large part of Rajasthan and contiguous areas of Haryana and Gujarat

Et (Tundra Type)

  • Region: Mountain areas of Uttarakhand
  • The average temperature varies from 0 to 10°C
  • Annual rainfall: Rainfall varies from year to year.

E (Polar Type)

  • Region: Higher areas of Jammu & Kashmir and Himachal Pradesh in which the temperature of the warmest month varies from 0° to 10°C

भारत के जलवायु क्षेत्र

Amw (इनका मानसून अल्पकालीन शुष्क सर्दी वाला होता है |)

  • क्षेत्र: पश्चिमी तटीय क्षेत्र ,मुंबई के दक्षिण में
  • वार्षिक वर्षा 300 cm से अधिक होती है |

As (यहाँ का मानसून प्रकार सूर्य  के उच्च ताप के साथ शुष्क होता है )

  • क्षेत्र: कोरोमंडल तट =  तमिलनाडु के तटीय क्षेत्र और आंध्र प्रदेश के आसपास के इलाके
  • वार्षिक वर्षा: 75 – 100 cm [आर्द्र सर्दियों, शुष्क ग्रीष्मकाल]

Aw (उष्णकटिबंधीय सवाना प्रकार):

  • क्षेत्र : कोरोमंडल तट तथा मालाबार तटीय पट्टी को छोड़कर प्रायद्वीपीय पठार के अधिकांश भाग |
  • वार्षिक वर्षा: 75 cm

BShw (अर्ध-शुष्क स्टेपी प्रकार की जलवायु ):

  • क्षेत्र: पश्चिमी घाट के कुछ वृष्टि छाया क्षेत्र, राजस्थान का विशाल हिस्सा और हरियाणा और गुजरात के निकटवर्ती इलाके |

Et (टुंड्रा प्रकार )

  • क्षेत्रः उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्र
  • औसत तापमान  0 से 10°C डिग्री सेल्सियस के बीच होता है
  • वार्षिक वर्षा: हर साल वर्षा अलग अलग होती है |

E (ध्रुवीय प्रकार)

  • क्षेत्र: जम्मू और कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के उच्च क्षेत्र ,जिनका सबसे गर्म महीने का तापमान 0 डिग्री से 10 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

No Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!