Ecology Topic Animal Diversity of India Content | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Topic Animal Diversity of India Content | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Topic Animal Diversity of India Content | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Topic Animal Diversity of India Content | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Topic Animal Diversity of India Content | UPSC IAS Exam 2018

  • India has been ranked as seventh most environmentally hazardous country in the world./पर्यावरण की दृष्टि से सबसे खतरनाक देशों में भारत को पूरी दुनिया में सातवाँ स्थान दिया गया है |
  • The study is based on the evaluation of “absolute” environment impact of 179 countries, done by researchers in Harvard, Princeton, Adelaide University and University of Singapore on January, 2011./यह अध्ययन 179 देशों के “पूर्ण” पर्यावरणीय प्रभाव के मूल्यांकन पर आधारित है, जिसे हॉवर्ड, प्रिन्सटन, एडिलेड विश्वविद्यालय तथा सिंगापुर विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं के द्वारा जनवरी 2011 में किया गया है |
  • Brazil was found to be worst on environmental indicators followed by united states and china whereas Singapore was the best./पर्यावरणीय संकेतकों पर ब्राज़ील सबसे खराब पाया गया जिसके बाद संयुक्त राज्य अमेरिका एवं चीन थे | सिंगापुर सबसे बेहतर था |

Critically Endangered Mammals/ गंभीर रूप से संकटग्रस्त स्तनपायी –

Pygmy Hog (Porcula salvania)/पिग्मी हॉग –

  • It is a critically endangered squid (smallest and rarest) previously spread across Bangladesh, Bhutan, India and Nepal but now only found in India(assam)./यह एक गंभीर रूप से संकटग्रस्त स्क्विड है (सबसे छोटा एवं दुर्लभ ) जो पहले बांग्लादेश, भूटान, भारत, तथा नेपाल में बड़े पैमाने पर पाया जाता था किन्तु अब केवल भारत (असम  ) में पाया जाता है |
  • It is one of the most useful indicators of the management status of grassland habitats. The grassland where the pygmy hog resides are crucial for the survival of other endangered species such as Indian Rhinoceros, Swamp deer, Wild Buffalo, Hispid Hare, Bengal Florican and Swamp Francolin./यह तृणभूमि आवासों के प्रबंधन की  स्थिति के सर्वाधिक उपयोगी संकेतकों में से एक है | घास स्थल जहाँ सानो बनैल रहते हैं, वे अन्य लुप्तप्राय प्रजातियों जैसे भारतीय गैंडे,  की उत्तरजीविता के लिए स्वाम्प डियर, जंगली भैंसे, हिस्पिड हेयर, बंगाल फ्लोरिकन, तथा स्वाम्प फ्लोरिकन के लिए महत्वपूर्ण होते हैं |
  • Major threat– main threat are loss and degradation of habitat due to human Settlements, agriculture encroachments, dry-season burning, livestock grazing, commercial forestry and flood control schemes/प्रमुख खतरे : प्रमुख खतरा मानव बस्तियों, कृषि, अतिक्रमण, शुष्क मौसम में आग, घरेलु पशुओं द्वारा चराई,वाणिज्यिक वानिकी तथा बाढ़ नियंत्रण योजनाओं की वजह से प्राकृतिक वास के नुकसान एवं पतन का है |
  • Conservation actions– Pygmy Hog conservation programme (PHCP) is a broad based research and conservation programme for this highly threatened species and its equally endangered animals./संरक्षण कार्य : पिग्मी गोग संरक्षण कार्यक्रम  इन अति संकटग्रस्त प्रजातियों तथा इनके समकक्ष संकटग्रस्त प्रजातियों के लिए  एक व्यापक अनुसंधान एवं संरक्षण कार्यक्रम है |
  • In 1996, a captive breeding programme of the species was initiated in Assam, and some hogs were reintroduced in Sonai Rupai area in 2009./1996 में, प्रजातियों की बंदी वंशवृद्धि कार्यक्रम की शुरुआत असम में की गयी थी तथा वर्ष 2009 में कुछ हॉग सोनाई रुपाई  क्षेत्र में फिर से लाये गए थे |
  • Hunting for wild meat by tribes was not considered a major problem in the past but is now threatening the remnant populations. /आदिवासियों द्वारा जंगली मांस के लिए इनके शिकार को पहले प्रमुख समस्या नहीं माना जाता था किन्तु अब यह बची हुई आबादी के लिए खतरा है |
  • Habitat– tall ‘terai’ grasslands/आवास : लम्बी “तराई” तृणभूमि  |

Andaman Shrew(Crocidura andamanesis)/अंडमानी छछुन्दर :

  • Also called Andaman white toothed shrew/इसे अंडमान का सफ़ेद दांतों वाला छछुन्दर भी कहा जाता है |
  • Habitat– this is a nocturnal animal, that lives in tropical moist deciduous and evergreen forests, where it inhabits leaf litter and rock crevices/आवास : यह एक रात्रिचर जानवर है , जो उष्णकटिबंधीय आर्द्र पर्णपाती तथा सदाबहार वनों में रहता है, जहाँ यह घासफूस एवं चट्टानों की दरारों में रहते हैं |
  • Major threat– this species is threatened by habitat loss due to anthropogenic actions on the Island except the National Parks/प्रमुख खतरे : राष्ट्रीय उद्यानों के अलावा द्वीपों पर मानवजनित गतिविधियों के कारण इस प्रजाति पर प्राकृतिक वास के नुकसान का खतरा है |
  • Conservation actions– this species has been recorded from Mount Harriet National Park (Das 1999). Taxonomic research and field surveys to determine the population size and range and the current status of the available habitat, with ongoing monitoring of population needed./संरक्षण कार्य : इस प्रजाति को माउंट हैरियट राष्ट्रीय उद्यान में रिकॉर्ड किया गया है| ( दास 1999) | वांछित जनसंख्या की चालू निगरानी के साथ जनसंख्या आकार तथा सीमा  एवं उपलब्ध आवासों की वर्तमान स्थिति का पता लगाने के लिए वर्गिकीय अनुसंधान एवं क्षेत्र सर्वेक्षण किये गए हैं | 

Kondana Rat (Millardia kondana)/कोंडाना चूहा –

  • This species is critically endangered due to extremely restricted extent of occurrence and area of occupancy./उत्पत्ति एवं प्रजनन के क्षेत्र सीमित होने की वजह से यह प्रजाति गंभीर रूप से संकटग्रस्त है|
  • Habitat– it is a nocturnal and fossorial species. It occurs in tropical and sub-tropical dry deciduous forests and tropical scrub./आवास : यह रात्रिचर एवं बिल बनाने वाला जीव होता है | यह उष्णकटिबंधीय तथा उपोष्णकटिबंधीय शुष्क पर्णपाती वनों तथा उष्णकटिबंधीय झाड़ियों में पाया जाता है |
  • Major threat– the major threats to the species are general loss of habitat, overgrazing of vegetation and disturbance from tourism/प्रमुख खतरे : इस प्रजाति के लिए प्रमुख खतरों में प्राकृतिक वास के नुकसान, वनस्पतियों का अतिचारण तथा पर्यटन से उत्पन्न होने वाली अशांति शामिल हैं |  
  • Conservation action– it is listed in Schedule V of the Indian Wildlife Act, 1972. It is not known from any protected areas. Survey, limiting factor research, habitat management and captive breeding are recommended for this species./संरक्षण कार्य : यह भारतीय वन्यजीव अधिनियम , 1972 की पांचवी सूची में सूचीबद्ध है | यह किसी भी संरक्षित क्षेत्र से नहीं जाना जाता | सर्वेक्षण, सीमित कारकों पर अनुसंधान, आवास प्रबंधन तथा बंदी वंशवृद्धि जैसे उपायों की सिफारिश इस प्रजाति के लिए की जाती है | 

Elvira Rat (Cremnomys elvira)/एलविरा चूहा –

  • Habitat and ecology- it is nocturnal and fossorial species, which occur in tropical dry deciduous scrub forest, where it is seen in rocky areas./आवास तथा पारिस्थितिकी : यह रात्रिचर तथा बिल बनाने वाले जीव होते हैं, जो उष्णकटिबंधीय शुष्क पर्णपाती झाड़दार वन में पाए जाते हैं, जहाँ यह पथरीले क्षेत्रों में देखे जाते हैं |
  • Major threats– the mining and dumping of debris in the foothills of small hillocks in the reserve forest boundary might cause severe damage to the habitat, as well as uncontrolled grazing in the rocky areas which might also have a negative impact on the habitat./प्रमुख खतरे : आरक्षित वन सीमा के भीतर छोटी पहाड़ियों की तलहटटियों में खनन कार्य तथा कूड़ा-करकट फेकने की वजह से आवास को व्यापक नुकसान पँहुच सकता है, साथ ही चट्टानी क्षेत्रों में अनियंत्रित चारण के भी आवास पर परिणाम नकारात्मक हो सकते हैं |
  • Conservation actions– it is listed in schedule V of Indian Wildlife Act, 1972. Immediate conservation actions are necessary to save the rocky habitat, and the site should be declared a wildlife sanctuary. This species is highly recommended for ex-situ conservation./संरक्षण कार्य : यह भारतीय वन्यजीव अधिनियम 1972 की पांचवी अनुसूची में सूचीबद्ध किया गया है | चट्टानी आवासों को बचाने के लिए शीघ्र संरक्षण क्रियाओं की आवश्यकता है , तथा स्थल को वन्यजीव अभ्यारण्य के रूप में घोषित कर देना चाहिए | इस प्रजाति के लिए बाह्य स्थाने संरक्षण की सिफारिश बहुत ज्यादा की जाती है | 

Namdapha Flying Squirrel (Biswamoyopterus biswasi)/नामदफा उड़ने वाली गिलहरी :

  • Habitat- it is mostly crepuscular and arboreal species. It occurs in dry deciduous montane forests occupying moist forest tracts along streams./आवास : यह अधिकतर सांध्यकालीन एवं वानस्पतिक प्रजाति होती है | यह शुष्क पर्णपाती पर्वतीय वनों में पायी जाती है जहाँ ये जल धारा के किनारे वनीय क्षेत्रों में रहती हैं |
  • Major threat- poaching of animals for food within the park has been observed to be the major threat. The species appear to have a restricted range, with presumably some general habitat loss and degradation taking place. Additional important threats include habitat loss through landslides and flooding./प्रमुख खतरे : भोजन के लिए उद्यान के भीतर जीवों का अवैध शिकार एक प्रमुख खतरे के रूप में देखा गया है | ऐसा प्रतीत होता है कि इन प्रजातियों की एक सीमित सीमा होती है जहाँ अनुमानतः उनके प्राकृतिक वास का नुकसान तथा कुछ पतन हो रहा है | इसके अतिरिक्त बाढ़ एवं भूस्खलन की वजह से प्राकृतिक वास के नुकसान का भी खतरा है |
  • Conservation Actions– this species is not protected by any legislation. It is known from Namdapha National Park, Arunachal Pradesh, India. There is a need to maintain suitable areas of habitat for this species, and to undertake detailed field surveys to determine whether the species still persists and to determine the current distribution range./संरक्षण कार्य : इस प्रजाति को किसी क़ानून के द्वारा संरक्षण प्रदान नहीं किया जाता | इसे भारत के अरुणाचल प्रदेश में स्थित नामदफा राष्ट्रीय उद्यान की वजह से जाना जाता है | इन प्रजातियों के आवास के उपयुक्त क्षेत्र को बनाए रखने की जरुरत है तथा साथ ही यह निर्धारित करने के लिए कि कहाँ यह प्रजाति अभी भी बनी हुई है एवं इसकी वर्तमान वितरण सीमा क्या है,  इस हेतु विस्तृत क्षेत्र सर्वेक्षण आरंभ करने की भी आवश्यकता है | 

The Sumatran Rhinoceros (Dicerorhinus sumatrensis)/सुमात्रा गैंडा –

  • Habitat- the species occur mainly in hilly areas nearby water resources, and exhibits seasonal movements/आवास : यह प्रजाति मुख्य रूप से पहाड़ी क्षेत्रों में पायी जाती है जहाँ पास में जल के स्रोत हों , तथा मौसम में परिवर्तन होने पर यह एक स्थान से दुसरे स्थान पर भी जाते हैं |
  • Major threat-the two major threats are poaching and reduced population viability. Hunting is primarily driven by the demand for the supposedly medicinal properties of rhino horns and other body parts./प्रमुख खतरे : अवैध शिकार तथा आबादी की कम हो रही जीवन क्षमता  दो प्रमुख समस्याएं हैं | इनका शिकार मुख्य रूप से गैंडे के सींग और अन्य शारीरिक अंगों के अनुमानित औषधीय गुणों की मांग से प्रेरित होता है।
  • Conservation Action– the species has been included in CITES Appendix I 1975, and legally protected in all range states. An extensive international cooperative programme for the conservation of this species is being implemented with in-situ activities being conducted in Indonesia and Malaysia. /संरक्षण कार्य : इस प्रजाति को CITES Appendix I 1975 में शामिल किया गया है , तथा जिन राज्यों में ये पाए जाते हैं उन सभी राज्यों में इन्हें कानूनन संरक्षण प्रदान किया जाता है | इस प्रजाति के संरक्षण के लिए मलेशिया एकं इंडोनेशिया में संचालित हो रही  स्व स्थाने क्रियायों के साथ एक व्यापक अंतर्राष्ट्रीय सहकारी कार्यक्रम की शुरुआत की गयी है | 

Kashmir stag/hangul (Cervus elaphus hanglu)/कश्मीरी हंगुल :

  • It is subspecies of Red deer which is native to India/यह लाल हिरन की उपजाति है जो भारत की देशज प्रजाति है |
  • Distribution- in India limited to the north side of the Valley of Kashmir. Found in Dachigam sanctuary in Jammu and Kashmir and Gamagal sanctuary in Himachal Pradesh./वितरण – भारत में कश्मीर घाटी के उत्तर तक सीमित | जम्मू एवं कश्मीर के दागीचाम राष्ट्रीय उद्यान तथा हिमाचल प्रदेश के गमगल अभ्यारण्य में पाया जाता है |
  • Reasons of decline- habitat destruction, overgrazing by domestic livestock and poaching./पतन के कारण : आवास विनाश, घरेलु पशुओं के द्वारर अत्यधिक चारण तथा अवैध शिकार |
  • Protection status- listed under Schedule I of Wildlife act,1972 and J&K wildlife act, 1978. It also has been Listed among the top 15 species of high conservation priority by the central government./संरक्षण स्थिति : वन्यजीव अधिनियम 1972 की पहली अनुसूची तथा जम्मू एवं कश्मित वन्यजीव अधिनियम, 1978  की पहली अनुसूची में सूचीबद्ध है | साथ ही, इसे केंद्र सरकार द्वारा उच्च संरक्षण प्राथमिकता वाली शीर्ष 15 प्रजातियों में भी शामिल किया गया है |

Marine Mammals/जलीय स्तनपायी जीव –

Freshwater/ river dolphin/नदी डॉलफिन –

Habitat- India, Bangladesh, Nepal and Pakistan which is split into two subspecies, the Ganges river dolphin and Indus river dolphin./आवास : भारत, बांग्लादेश, नेपाल, तथा पाकिस्तान| इसे दो उप-प्रजातियों में विभाजित किया गया है, गंगा नदी डॉलफिन तथा सिन्धु नदी डॉलफिन |

Ganges river dolphin/गंगा नदी डॉलफिन –

  • It can live only in freshwater and is essentially blind./यह केवल अलवणीय जल में रह सकती है तथा यह वास्तव में नेत्रहीन होती है |
  • It once ranged throughout the Ganges- Brahmaputra- Meghna and Karnaphuli-Sangu river system of Nepal, India and Bangladesh./यह भारत, नेपाल तथा बांग्लादेश के  गंगा-ब्रह्मपुत्र-मेघना तथा कर्णफूली- सांगू नदी अपवाह तंत्र में पायी जाती है |  
  • It has been recognized by the government of India as its National Aquatic Animal./इसे भारत सरकार के द्वारा भारत के जलीय जीव के रूप में मान्यता दी गयी है |

Indus river dolphin/सिन्धु नदी डॉलफिन –

  • Found in Pakistan’s Indus River./पाकिस्तान की सिन्धु नदी में पायी जाती है |
  • Today around 1,100 individuals survive in a 1375 km stretch of the Indus, divided into isolated population by six barrages( a type of dam)/आज करीब 1,100 डॉलफिन मछलियाँ सिन्धु नदी के 1375 किमी के फैलाव में जीवित हैं , छः बराजों (एक प्रकार का बाँध )  द्वारा पृथक आबादियों में विभाजित हैं |

Herbivorous Marine Mammals/शाकाहारी समुद्री स्तान्पाती जीव –

Include dugong and manatees and they inhabit swamps, rivers, estuaries, marine wetlands, and coastal marine waters./इसमें ड्यूगोंग, तथा मानाती शामिल हैं तथा वे आप्लावित क्षेत्रों , ज्वारनदमुखों, नदियों, समुद्री आर्द्रभूमियों एवं तटवर्ती समुद्री जल में निवास करते हैं |

Dugong/ड्यूगोंग –

  • Distributionthey can be found in warm coastal waters from East Africa to Australia, including the Red sea, Indian ocean, and Pacific./वितरण – वे लाल सागर, हिन्द महासागर, तथा प्रशांत महासागर सहित पूर्वी अफ्रीका से ऑस्ट्रेलिया तक गर्म तटवर्ती जल में पाए जा सकते हैं |
  • Status- vulnerable/स्थिति : सुभेद्य
  • Threat- hunting(meat and oil), habitat degradation, and fishing- related facilities./खतरा – शिकार ( मांस एवं तेल ), आवास पतन, तथा मछली पकड़ने से सम्बंधित सुविधाएं |

Manatees/मानाती –

  • Also called sea cow/इसे समुद्री गाय भी कहा जाता है |
  • Habitat- shallow, marshy coastal areas and rivers of the caribbean sea and the Gulf of Mexico, the Amazon basin, and west africa./आवास – उथले, कीचडदार तटवर्ती क्षेत्र तथा कॅरीबीयन समुद्र की नदियाँ एवं मेक्सिको की खाड़ी, अमेज़न बेसिन, एवं पश्चिमी अफ्रीका |
  • Threat- human related issues such as habitat destruction and human objects, red tide, hunting etc./खतरे : मानव से सम्बंधित समस्याएं जैसे आवास पतन, तथा मानव मुद्दे | लाल ज्वार, शिकार आदि | 

Exceptions /अपवाद –

Egg laying mammals/अंडे देने वाले स्तनपायी जीव –

  • Monotremes (a subdivision of mammal) represent a unique feature that rather than giving birth to young ones they lay eggs./अंडजस्तनी (स्तनपायी जीवों की एक प्रतिशाखा ) एक अनन्य विशेषता का प्रदर्शन करते हैं और वह यह है कि ये बच्चे पैदा करने के बजाय अंडे देते हैं |
  • There are only five living monotremes species- duck-billed platypus and four species of spiny anteaters (also known as echidna)/केवल पांच जीवित अंडजस्तनी प्रजातियाँ हैं – बत्तख मुंह प्लैटिपस तथा चींटीखोर (इन्हें एकिडना भी कहा जाता है ) जीवों की चार प्रजातियाँ |
  • All of them are found in Australia and New Guinea./ये सभी ऑस्ट्रेलिया तथा न्यू गिन्नी में पाए जाते हैं|

Echidna/ spiny ant eaters/एकिडना/ कांटेदार चींटीखोर –

  • Habitat- australia/ New guinea/आवास : ऑस्ट्रेलिया/ न्यू गिन्नी
  • In echidnas, the egg is carried in a pouch on the female’s belly until the Young hatches, at which point the barely-developed young must find a mammary gland and latch onto it for nourishment.
    /एकिडना में, अंडे को मादा के पेट पर एक थैली में तबतक रखा जाता है जबतक की बच्चा उसमें से बाहर नहीं आ जाता, यह वह बिंदु है जिसपर मुश्किल से विकसित बच्चे को एक स्तन ग्रंथि मिलनी चाहिए तथा उसे पोषण के लिए 

Platypus/प्लैटिपस –

  • Habitat- endemic to eastern Australia, including Tasmania/आवास : तस्मानिया सहित पूर्वी ऑस्ट्रेलिया का स्थानिक|
  • Females seals themselves inside one of the burrow’s chamber to lay their egg. The burrow is lined with dry vegetation./मादाएं अंडे देने के लिए खुद को बिल कक्ष में बंद कर लेती हैं | बिल पर सुखी वनस्पतियाँ आस्तरित की जाती हैं |
  • Male platypus has venom strong enough to can kill a small dog, or cause excruciating pain among humans. /नर प्लैटिपस जा विष इतना ताकतवर होता है कि यह एक छोटे कुत्ते को मार सकता है, अथवा मनुष्यों के लिए कष्टदायी दर्द की वजह बन सकता है |

Marsupial /धानीप्राणी –

  • They are members of mammalian infraclass marsupialia./वे अववर्ग स्तनधारी धानिप्रानी समुदाय के सदस्य हैं |
  • All extinct marsupials are endemic to Australasia and the Americas/सभी विलुप्त धानीप्राणी ऑस्ट्रेलिया एवं अमेरिका के स्थानिक हैं |
  • They give birth to relatively undeveloped young that often reside with the mother in a pouch/वे अपेक्षाकृत अविकसित बच्चों को जन्म देते हैं जो अक्सर अपनी माँ के साथ थैली में रहते हैं |
  • Marsupial mammals have very short lived placenta and do not participate in foetal nourishment./धानीप्राणी स्तनधारी जीव का गर्भनाल अल्पकालिक होता है तथा यह भ्रूण  के पोषण में सहायक नहीं होता है |
  • They have short gestation period due to presence of yolk type placenta in mother marsupial./माता धानीप्राणी में अंडमध्य प्रकार की गर्भनाल की मौजूदगी के कारण  उनकी गर्भधारण अवधि कम होती है |
  • Extinct- Marsupial quagga, the marsupial wolf./विलुप्त – धानीप्राणी क्वागा , धानीप्राणी भेड़िया |
  • Placental mammals all bear live young Which are nourished before birth in the mother’s uterus through a specialized embryonic organ attached to the uterus wall, the placenta./गर्भनालयुक्त स्तनधारी सभी जीव जीवित बच्चे को जन्म देते हैं जिनका पोषण जन्म के पहले एक विशिष्ट भ्रूणीय अंग जो गर्भाशय की भित्ति, अर्थात गर्भनाल से जुड़ा होता है,  के माध्यम से माँ के गर्भाशय में होता है |
  • Placental mammals nourish the developing embryo using the mother’s blood supply, allowing longer gestation times. /गर्भनालयुक्त स्तनधारी जीव विकसित हो रहे भ्रूण का पोषण माँ की रक्त आपूर्ति के द्वारा करते हैं , उनकी गर्भावधि लम्बे समय की होती है |

Examples/उदाहरण –

Phalanger, Kola, Kangaroo, wallaby, wombats, dassyure, opossum, Tasmanian devils, Tasmanian wolf/tiger, Bandi coot, Mursupial Mole./फ्लैंजेर, कोल, कंगारू, वालाबी,वोंबैट, ओपस्सम, तस्मानियाई डेविल, तस्मानियाई भेड़िये/बाघ, बंदीकूट, धानीप्राणी छछूंदर |

Critically endangered- Birds /गंभीर रूप से संकटग्रस्त – पक्षी

The Jerdon’s courser/जेरडॉन कॉर्सर –

  • It is a nocturnal bird found only in the northern part of the state of Andhra Pradesh in peninsular region./यह एक रात्रिचर पक्षी है जो केवल आंध्र प्रदेश के उत्तरी भाग में प्रायद्वीपीय क्षेत्र में पाया जाता है |
  • It is a flagship species for the extremely threatened scrub jungle./यह गंभीर रूप से संकटग्रस्त जंगल के लिए एक प्रमुख प्रजाति है |
  • The species was considered to be extinct until it was rediscovered in 1986 and the area of rediscovery was subsequently declared as the Sri Lankamaleswara Wildlife Sanctuary./1986 में इसके पुनः दिखाई देने से पूर्व इस प्रजाति को विलुप्त मान लिया गया था तथा वह क्षेत्र जहाँ यह प्रजाति पुनः पायी गयी , उसे तत्पश्चात लंकामलेश्वर वन्यजीव अभ्यारण्य के रूप में घोषित कर दिया गया |
  • Habitat- undisturbed scrub jungle with open areas/आवास – अबाधित झाड़दार वन एवं खुले क्षेत्र |
  • Distribution- Jerdon’s Courser is endemic to Andhra Pradesh./वितरण – ये पक्षी आंध्र प्रदेश के स्थानिक हैं |
  • Threats- clearing of scrub Jungle, Creation of new pastures, growing of dry land crops, illegal trapping of birds, plantations of exotic trees, quarring and the construction of the River Canals.
    /खतरे – झाड़दार वनों की कटाई, नए चारागाहों का निर्माण, भूमि को शुष्क बनाने वाले फसलों का उत्पादन, पक्षियों को अवैध रूप से पकड़ना, विदेशी वृक्षों को रोपना, उत्खनन तथा नदी नहरों का निर्माण |

The Forest owlet/फॉरेस्ट आवलेट –

  • It is endemic to forests of central India./यह मध्य भारत के वनों का स्थानिक पक्षी है |
  • After it was described in 1873 and it was not seen after 1884 and considered extinct until it was rediscovered 113 years later in 1997/1873 में परिभाषित होने के बाद एवं 1884 के बाद नहीं दिखाई पड़ने के कारण इसे विलुप्त मान लिया गया | किन्तु 113 वर्षों के बाद वर्ष 1997 में यह पक्षी पुनः दिखाई पड़ा |
  • Habitat- northern Maharashtra, south-east Madhya Pradesh or western Orissa./आवास – उत्तरी महाराष्ट्र, दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश , अथवा पश्चिमी उड़ीसा|
  • Threat- logging operations, burning and cutting of trees damage roosting and nesting trees of the forest owlet./खतरे – लकड़ी के लट्ठों को प्राप्त करने से सम्बंधित क्रियाएं, पेड़ों की कटाई एवं उन्हें जलाने की वजह से फ़ॉरेस्ट आवलेट जिन वृक्षों पर घोसला बनाते हैं, उन वृक्षों एवं उनके बसेरे को नुकसान पंहुचता है |

Corals/मूंगा –

Fire corals (Millepora boschmai)/फायर मूंगा :

  • Rarest species of coral in the world/मूंगा प्रजाति के दुर्लभ जीव |
  • It is known only from a small number of locations in the Pacific Ocean, Panama and Indonesia/यह प्रशांत महासागर, पनामा तथा इंडोनेशिया के केवल कुछ स्थानों पर ही पाए जाते हैं |
  • It is a type of hydrocoral, related to Jellyfish, anemones and the true corals that build reefs/यह हाइड्रोकोरल के प्रकार के हैं, जो जेलिफ़िश, एनीमोन तथा  यथार्थ मूंगा जो भित्तियों का निर्माण करते हैं , उन से सम्बंधित हैं |
  • Major Threat– climate change(in particular the temperature extremes which lead to bleaching events), pollution and habitat loss./प्रमुख खतरे : जलवायु परिवर्तन ( विशेष तौर पर अत्यधिक तापमान जिससे प्रवाल विरंजन की घटनाएं होती हैं ), प्रदूषण तथा प्राकृतिक वास का नुकसान |
  • They are listed under Appendix I and II of CITES which regulate the trade of endangered species./उन्हें विलुप्तप्राय प्रजातियों के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सम्मलेन (CITES ) के Appendix I तथा  II में सूचीबद्ध किया गया है जो विलुप्तप्राय प्रजातियों के व्यापार पर रोक लगाती है |

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

No Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!