Ecology Plant Diversity Notes | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Plant Diversity Notes | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Plant Diversity Notes | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Plant Diversity Notes | UPSC IAS Exam 2018

Ecology Plant Diversity Notes | UPSC IAS Exam 2018

Plant Classification –

  • Herb/औषधि –

plant whose stem is always green and tender with height not more than 1 m./वह पादप जिसका तना हमेशा हरा होता एवं मुलायम होता है एवं उंचाई 1 मी से कम होती है |

  • Shrub/छोटे वृक्ष/झाड़ी :

small or medium sized woody plants. Shrubs have persistent woody stems above the grounds, usually under 6m tall. They are distinguished from trees by their multiple stems and shorter height/छोटे एवं मध्यम आकार के जंगली पौधे | इन पौधों मे जमीन से ऊपर लकड़ी के सख्त तने होते हैं एवं इनकी उंचाई सामान्यतः छः मीटर होती है | वे उनके विभिन्न तनों तथा कम उंचाई के आधार पर  वृक्षों से भिन्न होते हैं |

  • Tree-/पेड़ :

it is defined as large woody perennial plant having a single well defined stem with more or less definite crown./इसे एक बड़े वृक्षसंकुल चिरस्थायी पादप के रूप में परिभाषित किया जाता है जिसमें केवल एक सुविकसित पूर्णतः स्पष्ट  तना होता है तथा इसमें कम या अधिक निश्चित शिखर पाए जाते हैं |

  • Parasitic plants/परजीवी पौधे – a plants that derives some or all of its nutritional requirements from another living plant/एक पौधा जो पोषक तत्वों की अपनी कुछ अथवा सभी जरूरतें किसी अन्य सजीव पौधे से पूरी करता है |
  • All parasitic plants have modified roots called haustoria which penetrate the host plant connecting it to the conducting system/सभी परजीवी पौधों में संशोधित जड़ें होती हैं जिन्हें चूषकांग कहा जाता है | ये जड़ें पोषिता पौधों में घुसी होती हैं तथा इसे संवहन प्रणाली से जोडती हैं |

Total parasite- draws whole of its nutrients/पूर्णतः परजीवी – अपने सभी पोषक तत्वों को निकालते हैं |

Partial parasite- draws a part of its nourishment./अंशतः परजीवी : अपने पोषण के कुछ भाग को प्राप्त करते हैं |

  • Epiphytes- any plant that grows upon another plant or object merely for physical support. They have no attachment to ground or other nutrient sources and are not parasitic on the supporting plant. Their root systems are only used to attach and hold themselves in place and not usually for acquiring water and nutrients./अधिपादप – वैसा पौधा जो केवल बाह्य सहायता के लिए किसी अन्य पौधे अथवा किसी अन्य चीज पर वृद्धि करता है | भूमि अथवा पोषक तत्वों के अन्य स्रोतों से उनका किसी भी प्रकार का जुड़ाव नहीं होता तथा वे सहायक पौधे पर परजीवी नहीं बनते हैं | उनके जड़-तंत्र का उपयोग वे केवल उस स्थल पर बने रहने के लिए करते हैं
  • Climbers– herbaceous or woody plant that grows vertically on some support by twining round them or by holding on them by tendrils, hooks, aerial roots or other modifications./लताएँ : अकाष्ठिल अथवा काष्ठिल पादप जो किसी सहारे के चारो तरफ घूम कर अथवा लता-तंतुओं, अंकुड़ा, वायवीय जड़ों या अन्य उपांतरणों के माध्यम से उन्हें पकड़कर   लम्बवत विकास करते हैं | 

Effects of Abiotic Components on Plants/अजैविक घटकों का पादपों पर प्रभाव –

  • Water- important nutrients are carried from soil to plants through water./जल – मिट्टी से महत्वपूर्ण पोषक तत्व पादप तक पानी के माध्यम से पंहुचते हैं |
  • Temperature- excessive temperature results in death of plant due to coagulation of protoplasmic proteins. It disturbs the balance between respiration and photosynthesis thereby causes depletion of food resulting in greater susceptibility to fungal and bacterial attack/तापमान – अत्यधिक तापमान का परिणाम जीव-द्रव्य सम्बन्धी प्रोटीन के जम जाने के कारण पादपों की मृत्यु के रूप में होता है | यह प्रकाश संश्लेषण तथा श्वसन के बीच संतुलन में व्यवधान उत्पन्न करता है जिसकी वजह से भोजन में कमी आती है और इसका परिणाम  कवक एवं जीवाणुओं के आक्रमण के प्रति पौधों के व्यापक संवेदनशीलता के रूप में होता है |
  • It also results in desiccation of plant tissues and depletion of moisture./यह पादप उत्तकों के सूखने तथा आर्द्रता की कमी का भी कारण बनता है | 

Dieback-/शीर्षारंभी क्षय – it refers to progressive dying usually backwards from the tip of any portion of plant. This is one of the adaptive mechanisms to avoid adverse conditions. In this mechanism, the root remains alive for years together but the shoots dies./यह पौधे के किसी भी भाग के सिरे से पीछे की तरफ आरोह मरण को संदर्भित करता है| प्रतिकूल परिस्थितियों से बचने के लिए यह अनुकूलक तंत्रों में से एक है | इस तंत्र में, जड़ वर्षों तक जिन्दा रहती है  किंतु टहनियां मर जाती हैं |

Eg. Sal, Red sanders, Terminalia tomentosa, silk cotton tree, boswellia serrata/उदाहरण : रक्त चन्दन, साज, रेशम कपास, शल्लकी

Causes for dieback/शीर्षारंभी क्षय  के कारण –

  • Dense overhead canopy and inadequate light/घनी ऊपरी कैनोपी तथा अपर्याप्त प्रकाश |
  • Dense weak growth/धीमी एवं शक्तिहीन वृद्धि |
  • Un-decomposed leaf litter on surface/सतह पर अनअपघटित पत्तियां
  • Frost/ठंढ
  • Drip/टपक
  • Drought/सूखा
  • Grazing/चराई 

Insectivorous Plant/कीटभक्षी पौधे –

  • These plants are specialized in trapping insects/इन पौधों को कीड़ों को पकड़ने में विशेषज्ञता हासिल होती है |
  • These plants are usually associated with rain washed, nutrient poor soils, or wet and acidic areas that are ill drained/ये पौधे सामान्यतः वृष्टि धावन, कम पोषक तत्वों वाली मिट्टी, अथवा  कम सिंचित गीले अथवा अम्लीय क्षेत्रों से सम्बंधित होते हैं |
  • They have several attractions such as Brilliant colors, sweet secretions and other curios to lure their innocent victims/उनमें विभिन्न आकर्षण पाए जाते हैं जैसे कि चमकीले रंग, मीठे स्राव, तथा अन्य विशेषताएं जो उनके अनभिज्ञ शिकारों को प्रलोभन देती हैं
  • Active insectivorous plants can close their leaf traps the moment insect lands on them/सक्रिय कीटभक्षी पौधे कीड़ों के उनपर बैठने के तुरंत बाद अपने पत्ती-जाल को बंद कर सकते हैं |
  • Passive ones have a ‘pitfall’ mechanism, having a special kind of jar or pitcher like structure into which the insects slips and falls, to eventually be digested./निष्क्रिय कीटभक्षी पौधों में जाल तंत्र पाया जाता है जिसमें एक जार अथवा मटके जैसी संरचना होती है,  जिसमें कीड़े फिसल कर गिर जाते हैं तथा आखिर में पचा लिए जाते हैं | 

Insectivorous plants in India/भारत में कीटभक्षी पादप –

  • Drosera or sundew/मक्खाजाली अथवा सनड्यूज –

It is one of the largest genera of carnivorous plants/यह मांसाहारी पौधों की बड़ी पीढ़ियों में से एक है |

Characterised by movable glandular Tentacles, topped with sweet sticky secretions./इनमें गतिशील ग्रंथिल लता-तंतुए तथा सबसे ऊपर मीठे चिपचिपे स्राव पाए जाते हैं |

  • When an insect lands on the sticky tentacles it have the capacity to move more tentacles in that direction to trap it further./जब कोई कीड़ा चिपचिपी लता- तंतुओं पर बैठता है तो इसमें उस दिशा में अधिक लता-तंतुओं को द्रवित करने की क्षमता पायी जाती है ताकि कीड़े को पकड़ा जा सके |
  • Once trapped, small sessile glands will digest the insect and absorb the resulting nutrients, which can be used to aid growth./एक बार फंस जाने के बाद, छोटी अवृंत ग्रंथियां कीड़े को पचा लेती हैं तथा पोषक तत्वों को अवशोषित कर लेती हैं, जिनका इस्तेमाल सहायक वृद्धि के लिए किया जा सकता है |

Pinguicula or Butterwort/बटरवर्ट अथवा पिंग्विकिला –

They use sticky glandular leaves to lure, trap and digest insects/वे चिपचिपी ग्रंथिल पत्तियों का इस्तेमाल कीड़ों को प्रलोभन देने, उन्हें फंसाने तथा उन्हें  पचाने के लिए करते हैं |

  • Leaves are succulent and usually bright green or pinkish in colour./पत्तियां रसदार होती हैं तथा उनका रंग सामान्यतः चमकीला हरा अथवा गुलाबी सा होता है |
  • Two special type of cells are found on the top side of butterwort leaves. One peduncular gland consist of secretory cells these cells produce a mucilaginous secretion which form visible droplets across the leaf surface and acts like flypaper./बटरवर्ट पौधों  की पत्तियों के ऊपरी भाग पर दो विशेष प्रकार की कोशिकाएं पायी जाती हैं | एक डंठलदार ग्रंथि स्रावी कोशिकाओं से मिलकर बनी होती है | ये कोशिकाएं लसदार स्राव उत्पन्न करती हैं जो पत्तियों के सतह पर दृश्य बूंदों का निर्माण करती हैं तथा मक्खीमार कागज़ के रूप में कार्य करती हैं |
  • Other cells are sessile glands they produce enzymes like amylase, esterase and protease, which aid in the digestion process./अन्य कोशिकाएं अवृंत ग्रंथियां होती हैं | वे एमीलेज, एस्टरेस, तथा प्रोटीज़ जैसे एंजाइम उत्पन्न करती हैं, जो पाचन क्रिया में सहायक होते हैं |

Utricularia or bladderwort/युटरीक्युलेरिया अथवा ब्लैडरवर्ट –

They occur in freshwater and moist soil as terrestrial or aquatic species/वे स्थलीय अथवा जलीय प्रजातियों के रूप में अलवणीय जल तथा नमी वाली मिट्टी  में पाए जाते हैं|

  • Only carnivorous plant that make use Bladder trap./एकमात्र मांसाहारी पौधा जो ब्लैडर जाल का उपयोग करता है |
  • The trap have small trigger hairs attached to a trapdoor/जाल में पाशद्वार से संलग्न छोटे-छोटे  संवेदक बाल होते हैं |
  • The bladder when set in have negative pressure in relation to the surrounding area./ब्लैडर के भीतर का दबाव आसपास के क्षेत्रों की तुलना में  कम होता है |
  • When the trigger hairs are tripped, the trap door opens up, sucks in the insect and surrounding water and closes the door again, all in a matter of 10 thousand of a second./जब संवेदक बाल छेड़े जाते हैं, तब पाश द्वार खुलता है, कीट तथा आसपास के जल को अन्दर खींचता है तथा द्वार पुनः बंद हो जाता है | यह सब सेकंड के दस हजारवें हिस्से में संपन्न हो जाता है | 

Nepenthes or Pitcher plant/नेपेंथीज या घटपर्णी पौधे –

Distribution- it is confined to the high rainfall hills and plateaus of north-eastern region, at altitudes ranging from 100-1500m, particularly in Garo, Khasi and Jaintia hills of Meghalaya/वितरण – इसका वितरण समुद्र तल से 100 से 1500 मी की उंचाई के मध्य  अधिक वर्षा वाले पहाड़ी क्षेत्रों तथा उत्तर-पूर्वी क्षेत्रों के पठारों  तक सीमित है | मेघालय के गारो, खासी तथा जैंतिया पहाड़ियों में यह पौधा विशेष रूप से पाया जाता है |

Insect trapping mechanism- nepenthes conforms to the pitfall type of trap. A honey like substance is secreted from glands at the entrance of the pitcher. Once the insect enters into the pitcher, it falls down because of slipperiness./कीड़ा पकड़ने की क्रियाविधि : नेपथींस पिटफॉल की तरह के एक जाल के अनुरूप होता है |  घटपर्णी के प्रवेश द्वार पर ग्रंथियां मधु जैसा एक पदार्थ स्रावित करती हैं | जैसे ही कोई कीड़ा घटपर्णी में प्रवेश करता है, तो यह फिसलन की वजह से अन्दर गिर जाता है

The inner wall, towards its lower half, bears numerous glands, which secrete a proteolytic enzyme. This enzyme digests the body of the trapped insects and nutrients are absorbed./इसके निचले हिस्से के तरफ की अंदरूनी दीवार  में कई ग्रंथियां होती हैं, जो एक प्रोटीन अपघटक एंजाइम स्रावित करती हैं | यह एंजाइम फंसे हुए कीड़े को पचा लेती है तथा पोषक तत्व अवशोषित कर लिए जाते हैं |

Medicinal Properties/औषधीय गुण

Sundew extracts are commonly used in Cough syrups and expectorants/सुनड्यू के निचोड़ का इस्तेमाल सामान्यतःखांसी के सीरप तथा कफ निस्सारक में किया जाता है |

Threat/खतरे

  • Pollution caused by effluents containing detergents, fertilizers, pesticides, sewage etc into the wetlands is yet another major cause for their decline./आर्द्रभूमियों में डिटर्जेंट, उर्वरकों, कीटनाशकों, एवं मलजल आदि से युक्त प्रवाह की वजह से होने वाला प्रदूषण उनके पतन का एक प्रमुख कारण है |
  • Gardening trading for medicinal properties is one of the main causes for their decline./औषधीय गुणों के लिए बागवानी व्यापार उनके पतन के प्रमुख कारणों में से एक है |
  • Habitat destruction is also rampant, the wetlands harbouring such plants being the main casualties during the expansion of urban and rural habitation/प्राकृतिक वास स्थल का हो रहा विनाश भी अनियंत्रित है, ऐसे पौधों वाली आर्द्र्भूमियां शहरी एवं ग्रामीण  वास स्थान के विस्तार के कारण मुख्य रूप से हताहत हो रही हैं |
  • Moreover, polluted water bodies are dominated by prolific water weeds which cause elimination of the delicate insectivorous plant./इसके अलावा, प्रदूषित जल निकायों में फलदार जंगली घास प्रमुख रूप से पाए जाते है जिनकी वजह से नाजुक कीटभक्षी पादपों का विलोपन होता है |  

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

No Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!