Art and Craft || Haryana Special- Study Material & Notes

Art and Craft || Haryana Special- Study Material & Notes

Art and Craft || Haryana Special- Study Material & Notes

Art and Craft || Haryana Special- Study Material & Notes

Art and Craft || Haryana Special- Study Material & Notes

Famous Craft Work of Haryana

The handicraft industry of Haryana offers an extensive range of art and craft including pottery making, handlooms, woven furniture and woodcarving. The handloom culture of Haryana is widespread. The textile town, Panipat is popular for its rugs and upholstery fabric. Moreover, pottery of Haryana is also famous because of their artistic decorative pots. Rohtak district makes some beautiful pitchers with clay. The villages of Haryana are centers of these local crafts. Other crafts of Haryana include tilla juttis of Rewari, educational toys of Gurgaon and much more.

हरियाणा का प्रसिद्ध शिल्प कार्य

हरियाणा का हस्तशिल्प उद्योग कला एवं शिल्प की एक विस्तृत श्रृंखला को समाहित करता है जिसमें मिट्टी के बर्तनों का निर्माण, हथकरघा, बुनी हुई फर्नीचर सामग्रियाँ तथा  लकड़ी पर की जाने वाली नक्काशी शामिल है | हरियाणा की हथकरघा संस्कृति विस्तृत है | वस्त्र शहर, पानीपत अपनी कालीनों तथा असबाब रेशे के लिए लोकप्रिय है | हरियाणा अपने कलात्मक सजावटी बर्तनों के लिए भी प्रसिद्ध है | रोहतक जिले में चिकनी मिट्टी से कुछ बेहद ख़ूबसूरत घड़ों का निर्माण किया जाता है | हरियाणा के गाँव इन स्थानीय शिल्पों के केंद्र हैं | हरियाणा के अन्य शिल्पों में रेवाड़ी की तिल्ला जूतियाँ, गुडगाँव के शिक्षानिक खिलौने तथा कई अन्य चीजें शामिल हैं |

Weaving and Embroidery

Pottery

Pottery making in Haryana is as popular as in any other state of India. Pots are made of clay, which come very cheap and easy, which is why this craft is so common in most places. The potter works on a wheel with clay to create the pots and other things like toys.  And the women of the family make the designs and colors the pots and toys.

बुनाई और कढ़ाई

मृद्भांड अथवा मिट्टी के बर्तनों का निर्माण

हरियाणा में मृद्भांड निर्माण उतना ही लोकप्रिय है जितना कि भारत के अन्य राज्यों में | घड़ों का निर्माण मिट्टी से किया जाता है जो काफी सस्ती एवं आसानी से उपलब्ध है | यही कारण है कि यह शिल्प अधिकांश स्थानों में बेहद आम है | कुम्हार चाक पर मिट्टी का प्रयोग करके घड़ों और अन्य वस्तुओं जैसे खिलौनों का निर्माण करता है | तथा परिवार की महिलायें डिजाईन बनाती हैं तथा साथ ही घड़ों और खिलौनों रंगाई भी करती हैं |

Museums in Haryana

Sri Krishna Museum(1987) ,Kurukshetra

The Sri Krishna Museum is wonderful place which reflects the history of Mahabharata and depicts many scenes, it is worth visiting for excellent art works by Great but unknown Indian artists over the ages.

हरियाणा के संग्रहालय

श्री कृष्ण संग्रहालय ( 1987), कुरुक्षेत्र

श्री कृष्ण संग्रहालय एक शानदार स्थल है जो महाभारत के इतिहास को दर्शाता है तथा कई दृश्यों का वर्णन करता है |  महान किंतु गुमनाम भारतीय कलाकारों द्वारा कई अवधियों में की गयी रचनाओं को देखने के लिए इस स्थान की यात्रा अवश्य की जानी चाहिए |

 

For More Articles You Can Visit On Below Links :

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time.

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)

IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    

  RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC  IAS (Prelims+Mains+Interview)

Click Here to subscribe Our YouTube Channel

No Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!